# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
जीवन बचाता है दान किया गया रक्त: डॉ. विरेंद्र

रेवाडी: नगराधीश डा. विरेंद्र ¨सह ने कहा है कि रेवाड़ी जिला उन गिने चुने जिलों में से एक है, जहां पर रक्तदान करने वालों की संख्या अधिक है और यह सभी के योगदान से ही संभव हो पाया है। उन्होंने बताया कि कई शिविरों में रक्तदाताओं की संख्या अधिक होने के कारण रक्तदान शिविर को बंद करना भी पड़ा है। वे बृहस्पतिवार को जिला रेडक्रास व जीयो के सहयोग से लगाए गए रक्तदान शिविर में रक्तदाताओं को प्रशस्ति पत्र प्रदान कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि दान किया गया रक्त किसी का जीवन बचाता है। रक्तदान करने से कभी भी कमजोरी नहीं आती है तथा एक स्वस्थ व्यक्ति हर तीन माह बाद रक्तदान कर सकता है। उन्होंने कहा कि समय पर रक्त मिलने से बीमारियों से पीड़ित व्यक्ति व दुर्घटना में घायल व्यक्ति को नया जीवन मिल जाता है। उन्होंने कहा कि रक्तदान सबसे बड़ा दान है।

शिविर में 54 रक्तदाताओं ने रक्तदान किया। गौरतलब है कि जिला रेडक्रास द्वारा वर्ष 2017 में 64 रक्तदान शिविरों का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 2000 यूनिट एकत्रित हुई। इस अवसर पर डा. स्वाति व जिला रेडक्रास की टीम उपस्थित थी।