# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
तीन माह में पूरी होगी पेयजल परियोजना: डॉ. बनवारी लाल

रेवाड़ी: जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कहा है कि आगामी 2 वर्षों में जिला के सभी गावों को नहरी पेयजल योजना से जोड़ दिया जाएगा तथा किसी भी गाव में पीने के पानी की समस्या नहीं रहेगी। वे बृहस्पतिवार को गांव बधराना में नहरी पेयजल परियोजना स्टेशन का निरीक्षण कर रहे थे।

उन्होंने बताया कि इस परियोजना का 95 प्रतिशत कार्य पूरा हो चुका है तथा शेष बचा कार्य आगामी 3 माह में पूरा कर लिया जाएगा। गांव बधराना में 93 करोड़ रुपये की लागत से 12 एकड़ जमीन पर नहरी पेयजल योजना का स्टेशन बनाया जा रहा है, जिससे बावल विधानसभा क्षेत्र के 55 गांव के लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध होगा। परियोजना के लिए जवाहर लाल नेहरु पंप हाउस-5 से 13 किलोमीटर लंबी लाइन से नहरी पानी लाया जाएगा। बधराना की परियोजना में 10 करोड़ 60 लाख लीटर पानी की क्षमता होगी तथा प्रतिदिन 60 लाख लीटर पानी फिल्टर करके गांवों के लोगों को सप्लाई किया जाएगा।

मंत्री ने बताया कि 55 गांवों में जलापूर्ति के लिए 5 मध्यवर्गीय बू¨स्टग स्टेशन (आईबीएस) नामत: भांडौर, धामलावास, बवाना गुर्जर, धारन व बधराना गांवों में बनाए जाए रहे हैं, जिनसे इन गांवों को पेजयल के लिए जोड़ा जाएगा। गांव खालेटा में 43 करोड़ रुपये की लागत से नहरी पेयजल योजना बनाई जाएगी, जिससे समीपवर्ती 15 गांवों को लाभ होगा। इस परियोजना का अगले सप्ताह टैंडर कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि धारूहेड़ा व नंदरामपुर बांस गांव के पास भी नहरी पेयजल योजना बनाने का प्रस्ताव भेजा हुआ है जिसे जल्द ही स्वीकृति मिल जाएगी। इससे भी कई गांवों को लाभ होगा।