News Description
मुआवजा नहीं मिला तो पुलिस में कराया बीमा कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज

 झज्जर : वर्ष 2016 में खरीफ सीजन में किसानों की फसलें खराब हो गई थी। इन फसलों का बीमा आज तक नहीं मिला है और किसान प्रशासनिक अधिकारियों के कार्यालयों के चक्कर लगा रहे हैं। किसानों ने यह समस्या 24 दिसंबर को कृषि मंत्री ओपी धनखड़ के सामने रखी तो उन्होंने पुलिस को इस संबंध में मामला दर्ज कर जांच करने के लिए कहा। इसके बाद साल्हावास पुलिस ने संबंधित कंपनी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

अकेहड़ी मदनपुर गांव निवासी जभगवान पुत्र रणधीर ¨सह का कहना है कि वर्ष 2016 में गांव के कई किसानों ने धान की फसल का बीमा करवाया था। उस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत नियमानुसार प्रीमियम भी भरा था। उसके बाद जब उनकी फसल खराब हुई तो बीमा कंपनी के सर्वेयर ने सर्वे भी किया था। लेकिन आज तक फसल में हुए नुकसान का मुआवजा कंपनी ने नहीं दिया है। उनका कहना है कि वे जय भवगवान, महेंद्र, भीम व औमप्रकाश चार भाई हैं। उनके अलावा उनका पड़ौसी सुरेंद्र की फसल भी खराब हो गई थी। उनकी शिकायत पर साल्हावास पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है। जयभगवान ने बताया कि वह मई में मामले की शिकायत सीएम ¨वडो पर भी डाल चुका है। वहीं कृषि विभाग की तरफ से कंपनी को 11 बार रिमाइंडर भी भेजा जा चुका है। लेकिन कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई है।