News Description
सुर संध्या में कलाकारों ने बांधा समां

कुरुक्षेत्र :सृजन संस्था ने नव-वर्ष के उपलक्ष में मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर कुरुक्षेत्र में सुर संध्या कार्यक्रम का आयोजन किया। इसमें भिन्न-भिन्न कलाकारों ने अपनी प्रस्तुति दी। कार्यक्रम की शुरूआत में सृजन संस्था के अध्यक्ष डॉ. योगेश्वर जोशी ने मुख्यातिथि मुख्य मंत्री के ओएसडी अमरेंद्र ¨सह का मल्टी आर्ट कल्चरल सेंटर में पहुंचने पर हार्दिक अभिनंदन किया। डॉ. जोशी ने सृजन पर प्रकाश डालते हुए बताया कि यह संस्था संगीत, कला, समाज उत्थान में युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए सदैव तत्पर रहेगी। मुख्यातिथि अमरेंद्र ¨सह ने सुर संध्या कार्यक्रम के आयोजक व सृजन संस्था के अध्यक्ष डॉ. जोशी को इस कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि इस तरह के कार्यक्रम बड़े स्तर पर आयोजित किए जाने चाहिए। अपने मधुर स्वरों से गायकों ने समां बांध दिया। डॉ. जोशी ने दर्शकों की फरमाइश पर चल कहीं दूर निकल जाएं तथा ओ हंसनी मेरी हंसनी कहां उड़ चली नामक गीत से दर्शकों का मन मोह लिया। कोमल वशिष्ट तथा डॉ. जोशी द्वारा गाए युगल गीत गाए। इसी कड़ी में डॉ. सुधीर ने ये शाम मस्तानी, मदहोश किए जा नामक गीत गाया। इसके अलावा डॉ. दीपक कौशिक ने सजन रे झूठ मत बोलो, कोमल वशिष्ट द्वारा प्रस्तुत गीत रहे ना रहे हम, महका करेंगे ने दर्शकों की वाह-वाही लूटी। छोटे-छोटे बच्चों ने भी मनमोहक प्रस्तुति दी। प्रगति टुटेजा, प्रोफेसर रजनी व डॉ. माधविका ने नृत्य से कार्यक्रम में समां बांध दिया। इसके अलावा इस कार्यक्रम में डॉ. रमा, मिस रोजी, विकास इत्यादि कलाकरों ने अपनी-अपनी प्रस्तुति दी।