News Description
17 क्विंटल खैर की लड़की से भरी स्कोर्पियो पकड़ी, तस्कर फरार

यमुनानगर : खिजराबाद के गांव कांसली के निकट सोमवार रात नाकाबंदी कर सीआइए-वन के स्टाफ ने खैर की लकड़ी से भरी एक स्कॉर्पियो कार पकड़ी। कार में 17 क्विंटल लकड़ी भरी गई थी। आरोपी खैर तस्कर मौके से फरार हो गए। पुलिस ने इस मामले में पांच खैर तस्करों को नामजद करते हुए चार-पांच अन्य के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। पुलिस खैर तस्करों की तलाश कर रही है।

सीआइए-वन के इंचार्ज संजीव मलिक ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि कुछ तस्कर खैर की लकड़ी से भरी लकड़ी लेकर खिजराबाद के गांव कांसली से निकलेंगे। सूचना पाते ही उन्होंने सब इंस्पेक्टर प्रमोद वालिया के नेतृत्व में एएसआइ राजकुमार, जस¨वद्र लालर, विपिन, रोहित, जितेंद्र व प्रदीप कुमार की टीम गठित की। टीम ने गांव कांसली के निकट नाकाबंदी कर दी। कुछ ही देर में एक स्कॉर्पियो कार आती दिखाई दी। पुलिस द्वारा कार चालक को रूकने का इशारा किया गया। लेकिन चालक पीछे ही कार को रोक कर उसमें से उतर कर फरार हो गया। जबकि पीछे आ रहे कुछ खैर तस्कर भी अंधेरे का फायदा उठाकर भाग गए। कार की तलाशी ली गई तो उसमें खैर की लकड़ी के छोटे-छोटे पीस कर भरे गए थे। कार में सिर्फ ड्राइवर की सीट ही खाली थी बाकी में खैर की लकड़ी थी। कार को कब्जे में लेकर वो थाने ले गए।

तुलाई करने पर खैर 17 क्विंटल थी। लकड़ी की कीमत पौने दो लाख रुपये है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए आरोपी खैर तस्कर गांव कांसली निवासी हुसैन, माजिद, मुस्ता व गांव खिलांवाला के दीनू हाफिज, मोती के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।