News Description
मांगों की अनदेखी करने पर कर्मचारी संघ करेगा आंदोलन

रोहतक : सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ने सरकार पर कर्मचारियों की जायज मांगों की अनदेखी करने व घोषणा पत्र पर अमल न करने का आरोप लगाते हुए प्रदेशव्यापी आंदोलन का ऐलान किया। आंदोलन के पहले चरण में चार से 20 जनवरी तक सभी जिलों में कार्यकर्ता सम्मेलन आयोजित किए जाएंगे और दूसरे चरण में 30 जनवरी को जिला मुख्यालयों पर सत्याग्रह के तहत जेल भरो आंदोलन किया जाएगा।

सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के प्रधान धर्मबीर फोगाट की अध्यक्षता में कर्मचारी भवन में आयोजित राज्य कार्यकारिणी की मी¨टग में आंदोलन का फैसला लिया गया। मी¨टग में सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा के पदाधिकारी व सदस्यों के अलावा संबधित विभागीय यूनियनों व एसोसिएशन के प्रधान व महासचिव और जिलों के प्रधान व सचिव ने सर्व सम्मति से आंदोलन का निर्णय लिया। मी¨टग में प्रस्ताव पारित कर कर्मचारियों की एकता तोड़ने के लिए सरकार की घोर ¨नदा की। वहीं अन्य प्रस्ताव में 17 जनवरी को परियोजनाओं के कर्मचारियों की देशव्यापी हड़ताल का पुरजोर समर्थन किया गया।

महासचिव सुभाष लांबा, प्रदेश प्रवक्ता इंद्र ¨सह बधाना व उप प्रधान सबिता ने बताया कि सरकार तीन वर्ष बीत जाने के बावजूद चुवावी घोषणा पत्र में किए वादे के अनुसार कुछ काम नहीं किया। डीसी रेट अनुबंध पर लगे कर्मचारियों को पक्का करने, 15 हजार न्यूनतम वेतन देने, पंजाब के समान वेतन वृद्धि पेंशन देने, ठेका प्रथा को समाप्त करने, शिशु शिक्षा भत्ता दो गुणा करने के वायदे को पूरा नही किया गया।