News Description
गांव के वृद्धों ने बैंक से पेंशन देने की लगाई गुहार

हथीन : आलीमेव गांव के वृद्ध डाकघर से वृद्धावस्था पेंशन मिलने से दुखी है। वृद्धों का आरोप है कि उन्हें पेंशन दो माह लेट मिलती है। जबकि अन्य गांवों में 11 वें माह की पेंशन का वितरण हो चुका है। लेकिन उन्हें अभी केवल नौवें माह की पेंशन ही मिली है। वृद्धों का कहना है कि डाक कर्मी जानबूझकर पेंशन में देरी करते हैं। वृद्धों ने सरकार से मांग कर कहा कि उनकी पेंशन नजदीकी गांव नांगल जाट की बैंक से कराई जाए। ताकि उन्हें समय पर पेंशन मिल सके।

गांव में लगभग 850 वृद्ध, विकलांग व अन्य मदों की पेंशन मिलती है। समाज कल्याण विभाग की तरफ से गांव के वृद्धों की पेंशन गांव के डाकखाना से जोड़ी हुई है। आरोप है कि डाकखाना से कभी भी समय पर पेंशन नहीं मिलती। गांव के वृद्ध हाजी शहीद, इल्यास, अतरू, कबीर,ममरेज, पूर्व सरपंच मजीद, पूर्व सरपंच हलीमा व अजीम का कहना था कि आली मेव को छोड़कर सभी गांवों में सरकार द्वारा बढ़ी हुई पेंशन 1800 रुपये मिल भी गए हैं। सरकार की तरफ से पेंशन सही समय पर खातों में डाली जाती है। लेकिन डाक विभाग पेंशन को समय पर नहीं वितरित करते।

गांव के वृद्धों की यह समस्या जायज है। पंचायत स्तर पर हम प्रस्ताव पास करके समाज कल्याण विभाग को समस्या से अवगत कराएंगे। ताकि लोगों की समस्या का निदान हो सके