News Description
केजीपी एक्सप्रेस-वे का गार्डर गिरा, ट्रेन यातायात बाधित

पलवल : इस्टर्न पैरिफेरल एक्सप्रेस वे केजीपी (कुंडली-गाजियाबाद-पलवल) के निर्माण कार्य के दौरान मंगलवार की दोपहर गांव अटोहां-असावटा के बीच रेलवे लाइन के ऊपर पुल बनाने के लिए लगाया जा रहा एक भारी-भरकम गार्डर क्रेन से खिसक कर रेलवे लाईन पर जा गिरा। गार्डर रेल लाईनों के ऊपर से गुजर रही ओवर हैड वायर पर गिरा, जिससे ¨चगारियों के बीच वायर टूट गई। इससे कोई मानवीय क्षति तो होने से बच गई, लेकिन करीब पांच घंटे तक ट्रेनों का परिचालन ठप रहा।

दिल्ली-आगरा-मुंबई रेलवे लाइन पर करीब 100 ट्रेनों का परिचालन प्रभावित हुआ। घटना की जानकारी मिलते ही केजीपी से जुड़े सभी अधिकारी व रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए। दोपहर करीब दो बजे गार्डर गिरने की घटना के बाद शाम करीब छह बजे तक दिल्ली-मुंबई रेल लाइन पूरी तरह से बंद कर दी गई। चार घंटे तक मुंबई की तरफ जाने वाले ट्रेनों को दिल्ली, फरीदाबाद व पलवल स्टेशनों पर तथा मुंबई आगरा की तरफ से आने वाली ट्रेनों को आगरा व मथुरा स्टेशनों पर ही रोक दिया गया।

एनएचएआइ के अधिकारियों के अनुसार मंगलवार को अटोहां-असावटागांव के बीच रेलवे लाइन के ऊपर केजीपी के पुल का निर्माण करने के लिए करीब 80 फीट लंबे गाटर डाले जा रहे थे। दोपहर करीब एक बजे कार्य शुरू किया गया। 1.25 बजे एक गार्डर डाल दिया गया। 1.45 बजे दूसरे गार्डर को क्रेन से उठाकर जैसे ही पुल के बीच की खाली जगह पर रखने का प्रयास किया गया, कि गार्डर बीच से मुड़ गया तथा रेलवे लाइन के ऊपर एचओवी पर जा गिरा। घटना की जानकारी मिलते ही राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण तथा रेलवे विभाग की टीमें मौके पर पहुंच गई। आरपीएफ ने भी मौके पर पहुंचकर मोर्चा संभाल लिया।

पलवल रेलवे स्टेशन पर तीन एक्सप्रेस ट्रेनें खड़ी रहीं। करीब पांच घंटे तक रेल मार्ग पूरी तरह से ठप रहा। शाम पौने छह बजे तक ही ट्रेनों का परिचालन सामान्य हो पाया।