News Description
कालीपलटन पुल से गुजरने के लिए अभी करना होगा लंबा इंतजार

अंबाला : छावनी के कालीपलटन पुल से गुजरकर दूसरी तरफ जाने के लिए अभी सेना और अन्य लोगों को को करीब डेढ़ से दो महीने का लंबा इंतजार करना पड़ेगा। क्योंकि दिसंबर माह में पूरा होने वाला काम अभी अधूरा है। पुल का काम पूरा नहीं होने के कारण रोजाना हजारों की संख्या में आमजन के अलावा सेना और अन्य को भी काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। मौजूदा समय में निर्माणाधीन पुल की ऊंचाई पहले से करीब दो से ढाई फुट ऊंची रहेगी जिस कारण पुराने को उठाने और नए लोहे के ढांचे पर आरसीसी स्लैब बनाने का काम चल रहा है।

गौरतलब है कि वर्ष 2015 में अंग्रेजों के जमाने में बने कालीपलटन पुल को नए सिरे से तोड़कर उसे बनाने के लिए निजी कंपनी की ओर से काम शुरू किया गया था। पहले तो संबंधित कंपनी की ओर से तैयार किया गया नया ढांचा साइज से काफी बड़ा बन गया था जिस कारण कई महीने काम बीच में बंद रहा और ढांचे को छोटा किया गया। इस पुल का काम अप्रैल 2016 में पूरा होना था लेकिन दिसंबर 2017 बीतने को है और अभी तक काम पूरा नहीं हुआ है। कंपनी की ओर से काम पूरा करने के लिए फिर से समय बढ़ा दिया गया है। ऐसे में अब पुल का काम फरवरी महीने में पूरा करने की बात कही जा रही है। पहले तो सेनाक्षेत्र की ओर से आ रहे वाहन रास्ता बंद देख दूसरी ओर से नीचे हाइवे की ओर चले जाते थे लेकिन अब कंपनी ने इस ओर आने वाले रास्तों को दोनों साइडों से बंद कर दिया है। ऐसे में राहगीरों के लिए पहले से अधिक दिक्कतें बढ़ गई है।