News Description
रामकली के प्रदीप ने भाई की बेटी ली गोद, पूरे गांव को कराया भोज

समाज में आज लोग लड़के के पैदा होने पर खुशी मनाते हैं, वहीं रामकली गांव के प्रदीप ने अपने भाई की सवा महीने की बेटी को गोद लेने की खुशी में ढोल नगाड़ों के साथ खुशी मनाई और पूरे गांव को भोज कराया। प्रदीप ने बताया कि उसके केवल दो लड़के ही हैं, जबकि उसके छोटे भाई की तीन बेटियां हैं। उनके परिवार ने फैसला लिया कि छोटी लड़की को गोद लेकर उसका पालन पोषण करें। प्रदीप ने कहा कि उनका परिवार बेटी व बेटी में कोई फर्क नहीं मानता। फर्क है तो केवल मानसिकता का। लड़कियों की परवरिश भी लड़कों से बेहतर करनी चाहिए। इस मौके सीताराम, दलीप, राजेश, राम¨सह, सुरजभान, बलराज, बारूराम सहित काफी संख्या में लोग मौजूद रहे।