News Description
बिन पटाखों के मनाना पड़ेगा नए साल का जश्न, बजे और बिके तो होगी कार्रवाई

अंबाला शहर : 25 दिसंबर के आते ही नए साल की तैयारियां शुरू हो जाती हैं। नव वर्ष का हर कोई अपने-अपने तरीके से स्वागत करना चाहता है। ऐसे में इस मौके पर आतिशबाजी न हो ऐसा हो ही नहीं सकता। 31 दिसंबर की रात हर साल दिवाली जैसी होती है, लेकिन इस बार ऐसा नहीं होगा। नए साल का स्वागत बिन पटाखों के करना पड़ेगा। पटाखे चलाए गए तो केस तक दर्ज कराया जाएगा। इसके अलावा इस अवधि में पटाखे बेचे भी नहीं जा सकेंगे। इस बारे में जिला मजिस्ट्रेट कम डीसी शरणदीप कौर बराड़ ने आदेश जारी कर दिए हैं। 24 दिसंबर को जारी पत्र में डीसी ने नव वर्ष के साथ-साथ शादी समारोह में भी पटाखे नहीं चलाने के आदेश जारी किए हैं। यह भी स्पष्ट कर दिया है कि इन आदेशों की अनुपालना नहीं करने पर आइपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई होगी।पर्यावरण को प्रदूषित होने से बचाने और जान-माल की हानि और लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए धारा 144 लगा दी गई है। नव वर्ष व शादी समारोह पर पटाखे नहीं बजाए जा सकते। ऐसा करने पर आइपीसी की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी। लोगों से अपील है कि वह प्रशासन का सहयोग करें और मिठाई खिलाकर और भाईचारे के साथ नव वर्ष व अन्य पर्व मनाएं।