News Description
राम भारतीय संस्कृति के गौरव डॉ मिश्र

कुरुक्षेत्र : अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डॉ. श्रीप्रकाश मिश्र ने कहा कि राम मानवता के आदर्श हैं, राम मर्यादा पुरुषोत्तम हैं, राम भारतीय संस्कृति के गौरव हैं। राम राष्ट्र पुरुष हैं। राम सेवा के प्रतीक हैं। राम स्वयं में एक जीवन दर्शन हैं।

डॉ. आरसी मिश्र ने मातृभूमि सेवा मिशन द्वारा वि‌र्श्व मंगलकामना हेतु आयोजित अखंड श्रीरामचरितमानस पाठ की पुर्णाहुति समारोह में बतौर मुख्यातिथि बोल रहे थे। मिशन के संयोजक डॉ. श्रीप्रकाश मिश्र ने आए सभी अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि श्रीरामचरितमानस भारत की पहचान है। विश्व में सबसे ज्यादा अभिनय करने वाला नाटक श्रीरामचरितमानस है। रामचरितमानस आदर्श समाज, आदर्श परिवार, आदर्श व्यक्ति की संकल्पना प्रस्तुत करता है, श्रीराम भारत का परिचय है। राम के जीवन को आत्मसात कर ही राम राज्य की कल्पना की जा सकती है। राम भारत के कण-कण में है। जीवन प्रबंधन के समस्त सुत्र श्रीरामचरितमानस में है। राम का चरित्र लोकमानस का आदर्श चरित्र है। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक डॉ. आरसी मिश्र ने कहा राम आदर्श व्यक्ति हैं, राम महानायक हैं। राम दीनानाथ हैं। राम समस्त समाज के हैं। राम का जीवन वंदनीय है। कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय के ¨हदी विभाग की अध्यक्ष डॉ. पुष्पा रानी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि रामचरितमानस जीवन निर्माण का ग्रंथ है। कार्यक्रम के मुख्य यजमान ¨हदू सुरक्षा समिति हरियाणा के प्रभारी एडवोकेट रामेश्वर चहल थे। कार्यक्रम के संयोजक आचार्य जयपाल शास्त्री ने आए सभी अतिथियों का आभार ज्ञापन किया। कार्यक्रम का समापन भगवान श्रीराम की आरती से हुआ। कार्यक्रम में हार्डीकॉन के निदेशक सत्यप्रकाश त्रिपाठी, पंजाब एवं हरियाणा उच्चन्यायालय के अधिवक्ता विवेक गोयल, भाजपा के वरिष्ठ नेता जसबीर ¨सह बाहरी, कंबोज एक्सपोर्ट के प्रबंध निदेशक शुभकरण कंबोज, आचार्य सतीश कौशिक, डॉ. तारा चंद शर्मा, सोमनाथ कक्कड़ एडवोकेट, तनुज काठपाल, पूर्व तहसीलदार पुरुषोत्तम दास, समाज सेवी सहिब ¨सह खरींडवा, कपिल मदान, डॉ. देवराज ¨सह, डॉ. पवन वशिष्ठ, सुनारिया के पूर्व सरपंच चरण ¨सह, प्रेमनारायण अवस्थी, राज गौड़, सर्राफा यूनियन के प्रधान मनोज गोयल, विधाता प्रॉपर्टी के निदेशक राकेश मेहता उपस्थित रहे।