News Description
कड़ी सुरक्षा के बीच एचटेट परीक्षा,DSP ने लिया सुरक्षा व्यवस्था का जायजा

यमुनानगर : जिले में रविवार को कड़ी सुरक्षा के बीच परीक्षार्थियों ने हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा दी। नकल रहित परीक्षा के लिए तीन बार तलाशी ली गई। हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने भिवानी से सभी केंद्रों पर लाइव नजर रखी। डीएसपी रेंक के अधिकारियों ने प्रवेश द्वार पर सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

7.50 से 9 बजे तक प्रवेश किया गया। सभी परीक्षार्थी मेटल डिटेक्टर से होकर परीक्षा केंद्र के अंदर गए। इसके साथ ही बायोमेट्रिक मशीन से अंगूठे का निशान भी लिए गए। परीक्षा केंद्र के अंदर विडियोग्राफी की गई। जानकारी अनुसार पहले चरण में 19 पर 4627 व दूसरे चरण के लिए 27 केंद्रों पर 8326 उम्मीदवारों को परीक्षा देनी थी। सुबह के सत्र में 8326 में से 7768 ने परीक्षा दी, इनमें से 558 परीक्षा देने नहीं पहुंचे। इसी तरह सांयकालीन सत्र में 4627 में से 4403 ने परीक्षा दी। इनमें से 224 अनुपस्थित हुए।

जिला शिक्षा अधिकारी के अनुसार इस बार नकल रोकने के लिए कड़े कदम उठाए गए। पहली बार बोर्ड की आरे से एचटेट के सभी केंद्रों की लाइव कवरेज की है। प्रदेश में 543 परीक्षा केंद्र बनाए गए। परीक्षा केंद्रों में दाखिल होने से पहले तीन चरणों में तलाशी ली गई। इसके साथ ही दस्तावेजों की जांच की गई। परीक्षार्थियों के केंद्र में प्रवेश से पहले प्रथम चरण में उसकी मेटल डिटेक्टर से तलाशी ली गई। उसके बाद आधार-आधारित बायोमैट्रिक प्रणाली से जांच के बाद तीसरे चरण में उनके कागजात जांचे गए। इसके साथ ही सभी परीक्षा केंद्रों पर अति-प्रभावी उडऩदस्तों द्वारा कड़ी निगरानी रखी गई। परीक्षा की लाइव कवरेज करने के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों की टीम सुबह ही जुट गई थी।

हरियाणा अध्यापक पात्रता परीक्षा में प्रदेश के सभी परीक्षा केंद्रों की सीसीटीवी कैमरों से लाइव कवरेज, आधार-आधारित बायोमैट्रिक उपस्थिति के अलावा मेटल डिटेक्टर से लाईव फ्रिस्कग (तलाशी), वीडियोग्राफी तथा इलेक्ट्रोनिक उपकरणों का प्रयोग रोकने के लिए जैमर की व्यवस्था करके व्यापक इंतजामात किए गए।