News Description
जाम हटाने को ट्रैफिक पुलिस के पास नहीं कोई क्रेन

यमुनानगर : शहर के बीच से दो नेशनल हाइवे व दो स्टेट हाइवे गुजर रहे हैं। इनमें से यदि किसी पर ट्रक या अन्य भारी वाहन पलट जाए तो जाम लग जाता है। जाम लगते ही पूरे शहर में हाय तोबा मच जाती है।

लेकिन ट्रैफिक पुलिस के पास ऐसा कोई इंतजाम नहीं है, जिससे लोगों को तुरंत राहत मिल सके। पुलिस के पास अपनी एक बड़ी क्रेन तक नहीं है। जिससे वाहन को एकदम से उठाकर एक तरफ किया जा सके। जब भी ऐसी स्थिति आती है पुलिस को प्राइवेट क्रेन मंगवानी पड़ती है। रात के वक्त शहर के बीच से पांच हजार से अधिक वाहन निकलते हैं, जिनमें अधिकतर ओवरलोड वाहन हैं। शहर को जाम से मुक्त होने में अभी दो माह का समय लगेगा, क्योंकि ¨रग रोड के निर्माण में अभी समय बाकि है।

ट्रैफिक पुलिस के पास केवल एक छोटी क्रेन व इंटरसेप्टर है। छोटी क्रेन हमेशा जिला न्यायालय परिसर के सामने खड़ी रहती है। इसकी मदद से केवल एक छोटी कार को ही उठाकर एक तरफ किया जा सकता है। इससे भारी वाहन उठाने की क्षमता इसमें नहीं है। कई बार तो कार उठाने में भी इस क्रेन को चलाने वाले के पसीने छूट जाते हैं। यही वजह है कि पुलिसकर्मी कभी कभार ही इसका इस्तेमाल करते हुए देखे जाते हैं।