# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
ट्रैक्टर व बाइक की टक्कर, युवक की मौत

फतेहाबाद रोड पर गांव हमजापुर के पास शनिवार देर रात्रि एक ट्रैक्टर और बाइक की भीषण टक्कर हो गई। इस टक्कर में बाइक सवार व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया। जिसे पुलिस टीम ने घटनास्थल से रतिया के नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया। लेकिन जांच के दौरान चिकित्सकों ने व्यक्ति को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतक के भाई के बयान पर अज्ञात ट्रैक्टर चालक के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार रतिया के वार्ड नंबर 7 निवासी 32 वर्षीय वीर ¨सह जो की बिजली मैकेनिक का काम करता है। शनिवार देर शाम को फतेहाबाद रोड पर जा रहा था लेकिन जैसे ही वह हमजापुर के पास पहुंचा तो सामने से आ रहे ट्रैक्टर से बाइक की भीषण टक्कर हो गई। इस टक्कर में जहां बाईक सवार बीर ¨सह गंभीर रूप से घायल होकर सड़क पर गिर गया । इस घटना के बाद ट्रैक्टर भी पलट गया व ट्रैक्टर चालक मौका देखकर वहां से फरार हो गया। ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जिस पर गश्त कर रहे पुलिस अधिकारी महेन्द्र ¨सह व संदीप तुरंत मौकास्थल पर पहुंचे और घायल को रतिया के नागरिक अस्पताल में दाखिल करवाया। लेकिन चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतक के भाई अमृतपाल की शिकायत पर अज्ञात ट्रैक्टर पर लापरवाही से वाहन चालक पर मामला दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी।

--दिल्ली से चला मिलने, लेकिन फिर भी न हो पाई भाई से मुलाकात

बताया गया है की मृतक बीर ¨सह का भाई अमृतपाल दिल्ली में कार्यरत है और वह काफी दिनों से अपने भाई से नहीं मिला था। शनिवार को उसका बीर ¨सह से मिलने का मनकर रहा था और उसने बीर ¨सह से फोन कर मिलने की बात कही और दिल्ली से भाई को मिलने के लिए रतिया चल पड़ा । लेकिन जब वह गांव के पास पहुंचा तो उसे भाई के एक्सीटेंट की सूचना मिली और वह भाई से मुलाकात के लिए अस्पताल भी पहुंच गया था। लेकिन भाग्य को कुछ और ही मंजूर था क्योंकि अस्पताल पहुंचकर भी उसकी भाई से