News Description
मंत्री ने दिए तहसीलदार को सस्पेंड करने के निर्देश

लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की शुक्रवार को हुई बैठक में लोक निर्माण एवं वनमंत्री राव नरबीर ¨सह ने रेवाड़ी के तहसीलदार विकास मलिक को उस समय सस्पेंड करने का निर्देश दे दिया, जब एक व्यक्ति ने रजिस्ट्री की एवज में रिश्वत मांगने का आरोप लगा दिया।

मुकेश नामक व्यक्ति के आरोप लगाते ही भाजपा के पदाधिकारी सतीश खोला व कुछ अन्य लोग भी तहसीलदार के खिलाफ खड़े हो गए। खोला ने खुलकर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए। कोसली के विधायक बिक्रम ¨सह यादव भी तहसीलदार के खिलाफ खुलकर खड़े हो गए। नरबीर ¨सह ने भी बिना देरी निलंबन के आदेश देते हुए कह दिया कि तहसीलदार के खिलाफ आरोपों की जांच सीएम विजिलेंस से करवाई जाएगी।

निलंबन की बात सुनते ही तहसीलदार ने अपना पक्ष रखना चाहा। उन्होंने आग्रह किया कि निलंबन की बजाय पहले आरोपों की जांच करवा ली जाए, लेकिन मंत्री ने उनकी एक नहीं सुनी