News Description
किसानों की समस्या प्राथमिकता से दूर की जाएगाी : सहरावत

 नूंह : खंड के गांव बड़कालीमुद्दीन में बागवानी विभाग द्वारा एक जिला स्तरीय कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें जिले के सैकड़ों किसानों ने भाग लिया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि बागवानी विभाग के मिशन निदेशक डा. बीएस सहरावत रहे।

इस मौके पर उन्होंने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में नूंह जिले के किसानों को राहत देने के लिए विभाग द्वारा सब्सिडी दी जा रही है। ताकि किसान परंपरागत खेती को अपनाकर आगे बढ़ सके। विभाग द्वारा किसानों को नेट हाउस, टपका ¨सचाई प्रणाली, बांस-बल्ली, प्लास्टिक कैरेट व टमाटर आदि के लिए भारी राहत दी जा रही है। जिससे किसानों को क्षेत्र व प्रदेश की तरक्की के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिले के किसानों को आज हर योजना की सब्सिडी उनके खातों में दी जा रही है। जिससे किसी प्रकार के बिचौलियों की जरूरत नहीं है। जिससे किसानों को काफी लाभ मिल रहा है। विभाग के पास रुपयों की कोई कमी नहीं है। ऐसे में जिले के हालातों को देखते हुए किसानों को परंपरागत खेती को अपनाना चाहिए। इस दौरान जिले के उन्नत किसान शिवराम शर्मा दिहाना ने पानी के अभाव को देखते हुए जिले के किसानों को वाटर टैंक व पैक हाउस के लिए भी अनुदान राशि की मांग की जिसे उन्होंने तुरंत प्रभाव से लागू करने का आश्वासन दिया। इसके अलावा जिले के किसानों की मंडी की समस्याओं को देखते हुए किसानों ने नई दिल्ली की आजादपुर सब्जी मंडी में नूंह जिले के नाम से अलग व्यवस्था करने की मांग की ताकि जिले के किसानों को अपनी पहचान मिल सके। जिससे वह उनके समय के साथ आर्थिक रूप से लाभ मिले। किसानों की समस्याओं को देखते हुए मिशन निदेशक ने सभी मांगों को प्रमुखता के साथ हल करवाने का आश्वासन दिया।

इस मौके पर मुख्य रूप से जिला बागवानी अधिकारी डा. बीरेंद्र ¨सह हुड्डा, उनके सहयोगी डा. अब्दुल रज्जाक, बागवानी सलाहाकार अधिकारी डा. नितेश कुमार, मत्स्य अधिकारी इलियास खान, शिवराम शर्मा दिहाना, एडवोकेट मंदन तंवर, डा. रवि कुमार, रामेश्वर, तेजपाल जाटका, इजहार मांडीखेड़ा, जमील सरपंच व मुबीन दिहाना सहित सैकड़ों किसान मौजूद रहे