# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
नहरी पानी के अभाव में ग्रामीणों के सूखे कंठ, प्यासे रहते हैं खेत

सांपला: तहसील मुख्यालय से महज 11 किलोमीटर की दूरी पर आबाद गांव चुलियाना में लोगों को पेयजल के लिए खासी परेशानी उठानी पड़ रही है तो खेत भी पानी के अभाव में प्यासे रह जाते हैं। नहर में पानी टेल तक पहुंचना तो दूर की बात है बल्कि नहर में गंदगी भरने के कारण पानी रास्ते में ही रह जाता है।

नहर में पानी न आने के कारण गांव में लाखों रुपये की लागत से बने वाटर टैंक सूखे पड़े रहते हैं। गांव के साथ से इस्माइला डिस्ट्रीबूटर नहर निकलती है, लेकिन पानी का समय व पूरा बहाव न आने के कारण वाटर टैंक सफेद हाथी साबित हो रहे हैं। वाटर टैंकों में नही पानी का संग्रह न होने के कारण जन स्वास्थ्य विभाग टयूबवेलों से पानी की सप्लाई करता है जो ग्रामीणों की मांग के अनुसार न होने से परेशानी का सबब बनी हुई है। गांव में टयूबवेलों के पानी की सप्लाई दे दी जा रही है उसका टीडीएस इतना होता है कि ग्रामीण बीमारियों की चपेट में आ रहे हैं।

ग्रामीणों को नहर का स्वच्छ व कम टीडीएस वाला पानी न मिलने के कारण निजी सप्लायरों से महंगी दरों पर पानी खरीदकर पीना ही पड़ रहा है साथ में पानी की पाइप लाइन डालकर पानी की सप्लाई देने वाले पानी की ट्यूबवेलों से पानी की सप्लाई देकर मोटा मुनाफा कमा रहे हैं। नहर में पानी न आने के कारण खेत भी सूख रहे हैं। नहरी विभाग समय पर नहर की सफाई नहीं करवा रहा है जिससे ग्रामीणों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है।