News Description
हूटर बजा, प्रशासन ने खाली करवाया छह मंजिला बिल्डिंग

पानीपत : लघु सचिवालय, बृहस्पतिवार सुबह 10 बजे हूटर बजा। छह मंजिली बिल्डिंग से अधिकारी व कर्मचारी भूकंप का अनुभव कर बाहर भागने लगे। पुलिसकर्मियों ने बिल्डिंग को घेरा लिया। घटना के तुरंत बाद रेस्क्यू ऑपरेशन टीम मौके पर पहुंची। गंभीर रूप से घायलों को सिविल अस्पताल में भर्ती करवाया। डेढ़ घंटे में मेगा मॉक ड्रिल की प्रक्रिया पूरी हो गई।

सचिवालय में लोग सीढि़यों के सहारे जल्दबाजी में नीचे उतरने लगे। सुबह 10.05 बजे पर 5 एंबुलेंस लघु सचिवालय में पहुंचीं। भवन का एक टुकड़ा गिरने से तीन गंभीर रूप से घायल हो गए। लोगों को सामान्य अस्पताल ले जाया गया। डीसी चंद्रशेखर खरे व एसपी राहुल शर्मा ने अधीनस्थों के साथ लोगों को खुले मैदानों की ओर जाने की बात कही। सुबह 10:10 बजे भवन पूरी तरह से खाली करा दिया गया। लोगों की भीड़ लग गई। उन्हें कोर्ट परिसर में स्थित ऑफिसर कालोनी की पार्क की ओर ले जाया गया। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 6.8 आंकी गई। गुरुग्राम में भूकंप का केंद्र होने की बात कही गई। 10:16 बजे तक कोर्ट परिसर पूरी तरह से छावनी में तब्दील हो गया। डीसी चंद्रशेखर खरे ने प्रशासनिक अधिकारियों की देखरेख में छह टीमों का गठन कर उन्हें घटनास्थलों की ओर रवाना किया।

डीसी ने 10:18 बजे एसपी राहुल शर्मा, सीएमओ संतलाल वर्मा व जन स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों को लोगों के लिए आवश्यक चीजें उपलब्ध कराने की बात कही। 10.23 बजे विभिन्न टीमें घटनास्थलों की ओर रवाना हो गई थी। उपायुक्त ने सुबह 10.32 बजे रेस्क्यू ऑपरेशन करने के आदेश दिए। 10:39 मिनट पर सिख यूथ फेडरेशन के सदस्य होमगार्ड के जवान मंजीत सिंह को स्ट्रेचर पर पार्क में लेकर आए। जहां चिकित्सकों ने उसका उपचार किया।