News Description
मॉक ड्रिल को लेकर अधिकारियों को दिए निर्देश

 नूंह : अतिरिक्त मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा व कर्नल दत्ता ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए सभी जिलों के उपायुक्त के साथ 21 दिसंबर को होने वाली भूकंप आपदा सुरक्षा अभ्यास (मार्क ड्रिल) के बारे में सभी तैयारियों की समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। 

उन्होंने कहा कि मॉक ड्रिल केवल अभ्यास के लिए की जाएगी। उन्होनें सभी नागरिकों व कर्मचारियों से आह्वान किया कि अभ्यास के दौरान किसी भी प्रकार की हड़बड़ाहट व गलती न करें। अतिरिक्त मुख्य सचिव ने कहा कि सभी उपायुक्त यह सुनिश्त करें कि सभी संयत्र चालू अवस्था में हों और सभी अधिकारियों व कर्मचारियों को अपनी जिम्मेवारी का ज्ञान हो। उन्होंने कहा कि किसी भी आपदा से निपटने के लिए जिला स्तर पर तमाम प्रकार का रिकॉर्ड व्यवस्थित तरीके से पूर्ण होना चाहिए, इसलिए रिकॉर्ड को सुव्यवस्थित तरीके से एकत्रित करके रखें ताकि जरूरत पड़ने पर इस रिकॉर्ड का सदुपयोग हो सके। कर्नल दत्ता ने कहा कि मॉक ड्रिल कार्यक्रम में फायर ब्रिगेड, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग, होम गार्ड विभाग, रेडक्रॉस, खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले विभाग समेत कई विभाग तथा गैर सरकारी संगठन भाग लेंगे। उपायुक्त अशोक शर्मा ने बताया कि जिले में 21 दिसंबर को चार स्थानों पर मॉक ड्रिल कराई जाएगी।

जिसमें लघु सचिवालय, कोर्ट परिसर, सिविल अस्तपाल नूंह, मेडिकल कालेज नल्हड़ को शामिल किया गया है। पुलिस अधीक्षक नाजनीन भसीन ने बताया कि चार मुख्य स्थानों पर पुलिस व होम गार्ड के जवानों की ड्यूटी लगा दी गई है। सभी अपने स्थान पर समयानुसार तैनात रहेंगे।