News Description
पाउडर फैक्ट्री में जा रहा किसानों का यूरिया पकड़ा

सोनीपत (राई) : खाद वितरक (रिटेलर) सरेआम कालाबाजारी को बढ़ावा दे रहे हैं। ऐसा मामला कुंडली औद्योगिक क्षेत्र में सामने आया। यहां एक रिटेलर खुद गाड़ी में एग्रीकल्चर यूरिया लेकर उसे एक पाउडर बनाने वाली फैक्ट्री में पहुंचा रहा था। विभाग की टीम ने फैक्ट्री के गेट पर ही दबिश देकर गाड़ी से यूरिया के 60 बैग बरामद किए हैं। कृषि अधिकारी ने इसकी शिकायत पुलिस को दी है। पुलिस ने फैक्ट्री मालिक व रिटेलर पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। साथ ही विभाग के अधिकारियों ने रिटेलर का लाइसेंस रद करने के लिए अधिकारियों को सिफारिश की है और रिटेलर को अपने दस्तावेज पेश करने के आदेश दिए हैं।

गुण नियंत्रण निरीक्षक जोरा ¨सह देशवाल ने बताया कि मंगलवार देर शाम उन्हें शिकायत मिली थी कि कुंडली औद्योगिक क्षेत्र में अवैध रूप से यूरिया सप्लाई हो रहा है। सूचना के आधार पर राई के नायब तहसीलदार कृष्ण यादव के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया। यह टीम देर रात औद्योगिक क्षेत्र में पहुंची। इस दौरान उन्हें सतीश गोयल पाउडर फैक्ट्री के पास एक बोलेरो गाड़ी आती दिखी। यह गाड़ी फैक्ट्री में ही जा रही थी। गाड़ी को रोककर चेक करने पर उसमें यूरिया के 60 बैग भरे हुए मिले। यूरिया नीम कोटेड थे, जिसका प्रयोग खेती में होता है और उस पर सब्सिडी दी जाती है। टीम ने जब चालक से पूछताछ की तो उसने अपनी पहचान प्रवीन निवासी आनंद विहार हांसी चौक, करनाल के रूप में दी।

उसने बताया कि वह इसको गांव खुरमपुर स्थित चौहान खाद भंडार से लेकर आया है। इसे यहां लाने के लिए खाद वितरक देवेंद्र व फैक्ट्री का एक का¨रदा आगे गाड़ी में फैक्ट्री का रास्ता दिखा रहे थे। गाड़ी के पकड़ने के बाद वह मौके से फरार हो गए। शिकायत पर थाना कुंडली पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। इस टीम में विभाग के एडीओ हरीश दहिया भी शामिल थे