News Description
आखिरकार शुरू हुआ स्वचालित सीढि़यां लगाने का काम

 फरीदाबाद : लंबे इंतजार के बाद आखिरकार फरीदाबाद रेलवे स्टेशन पर स्वचालित सीढि़यां लगाने का काम शुरू हो गया है। इसके लगने के बाद यात्रियों को सीढि़यां चढ़ने की मशक्कत नहीं करनी होगी और दिव्यांग एवं बुजुर्ग यात्रियों को सबसे ज्यादा सहूलियत हो जाएगी।

उल्लेखनीय है कि करीब चार साल पहले फरीदाबाद स्टेशन के यात्रियों को सहूलियत देने के लिए स्वचालित सीढि़यां लगाने के लाई गई थी, जो कई महीने तक रखे रहने के बाद किन्हीं कारणों से तुगलकाबाद स्टेशन भेजकर लगवा दी गई थी। चार साल बाद एक बार फिर उत्तर रेलवे ने फरीदाबाद स्टेशन पर स्वचालित सीढि़यों की सुविधा मुहैया कराने की योजना तैयार की। इसके तहत दो महीने पहले स्वचालित सीढि़यां फरीदाबाद स्टेशन पर पहुंची और अगले दो महीने में इसे शुरू भी कर दिया गया है। इसे लगाने के लिए रेलवे के आइओडब्ल्यू विभाग ने सिविल वर्क शुरू भी कर दिया है। इसमें रेलवे की ओर से 20 लाख रुपये खर्च किए जाएंगे। सिविल वर्क पूरा होने के बाद जॉनसन कंपनी स्वचालित सीढि़यां लगाने का काम शुरू करेगी।ओल्ड फरीदाबाद वाले मुख्य द्वार पर लगेगी सीढि़यां : रेलवे के अधिकारी के अनुसार स्टेशन के दोनों ओर स्वचालित सीढि़यां लगाई जाएंगी, फिलहाल ओल्ड फरीदाबाद वाले मुख्य द्वार पर इन्हें लगाया जा रहा है। यहां पर लगाने के इसका ट्रायल भी किया जाएगा। ट्रायल में खरा उतरने के बाद एनआइटी ओर भी लगाए जाने की संभावना है।

दिव्यांगों को मिलेगी राहत : फरीदाबाद स्टेशन पर दिव्यांगों के लिए प्लेटफॉर्म तक पहुंचने के लिए कोई व्यवस्था नहीं है। ओल्ड फरीदाबाद और राष्ट्रीय राजमार्ग से आने वाले दिव्यांग यात्रियों को प्लेटफॉर्म तक पहुंचने के लिए एनआइटी द्वार से रेलवे स्टेशन पर प्रवेश करना पड़ता है। स्वचालित सीढि़यां लगने के बाद दिव्यांग एवं बुजुर्गों को प्लेटफॉर्म तक पहुंचने में कुछ राहत मिल जाएगी।

स्वचालित सीढि़या लगाने का काम शुरू हो गया है। आइओडब्ल्यू की ओर से फिलहाल सिविल वर्क किया जा रहा है। इसके बाद जॉनसन कंपनी अपना काम शुरू करेगी।