News Description
10 बजे बजेगा सायरन, होगी मॉक ड्रिल तैयारिया पूरी

बहादुरगढ़:उपमंडल में 21 दिसंबर को ओमेक्स सिटी और एचपीसीएल गैस प्लाट परिसर में सुबह 10 बजे मेगा मॉक ड्रिल आयोजित होगी।

उपायुक्त सोनल गोयल के मार्गदर्शन में होने वाली मॉक ड्रिल को लेकर बुधवार को एसडीएम जगनिवास ने संबंधित अधिकारियों, कर्मचारियों, स्वयंसेवी संस्थाओं के प्रतिनिधियों के साथ आपदा के समय राहत एवं बचाव कायरें से जुड़ी संबंधित सभी तैयारियों का जायजा लिया। बुधवार को आप्रेशनल हैड एवं उपमंडल अधिकारी (ना.) जगनिवास के नेतृत्व में पूर्व अभ्यास किया गया, जिसमें आपदा से निपटने के तरीकों और प्रशासन द्वारा किए जाने वाले प्रबंधों को लेकर रिहर्सल की गई।

गौरतलब है कि बृहस्पतिवार को प्रदेश भर में होने वाली माक ड्रिल को लेकर ओमेक्स सिटी परिसर व एचपीसीएल पर मॉक ड्रिल होगी, जिनकी तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया।

एसडीएम ने कहा कि आपदा की स्थिति में सभी को एकजुट होकर एक टीम वर्क के रूप में कार्य करते हुए जान-माल की सुरक्षा के प्रति सामाजिक दायित्व का निर्वहन किया जाए। इस मेगा मॉक ड्रिल के माध्यम से आपदा की स्थिति से निपटने की पूरी तैयारी हूबहू नजर आएगी।

एसडीएम ने बताया कि 21 दिसंबर को आपदा प्रबंधन के तहत मॉक ड्रिल के जरिए आपदाओं से निपटने के लिए सभी विभागों की ओर से की जाने वाली तैयारियों का प्रदर्शन होगा। एसडीएम ने बताया कि 21 दिसंबर को आपदा की मॉक ड्रिल होगी, जिसमें बृहस्पतिवार को सुबह 10 बजे सायरन बजेगा। इस सायरन के साथ ही जिला प्रशासन सहित तमाम संस्थान बचाव कार्य को लेकर इस तरह का पूर्व अभ्यास करेंगे, जैसे सच में ही कोई आपदा आई है।

पूर्व अभ्यास के दौरान तैयारियों का जायजा लेते हुए एसडीएम ने कहा कि सभी विभाग तैयारियों के साथ अपनी डयूटी का निर्वहन करें। उन्होंने कहा कि मॉक ड्रिल का उद्देश्य आमजन को जागरूक करना है। विपदा के समय किस तरह पीड़ितों को राहत पंहुचाई जाए। यह मॉक ड्रिल के माध्यम से प्रदर्शित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आपदा प्रबंधन की दिशा में कोई भी कमी न रहे इसके लिए विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं। उन्होंने आम लोगों से भी आह्वान किया है कि वे स्वयं भी इस मॉक ड्रिल का हिस्सा बने और इस तरह की प्रेक्टिस अमल में लाए कि वास्तविक आपदा के समय बचाव कार्य में किसी तरह की परेशानी न हो।