News Description
मरीजों को मैडिकल कालेज में मिल रही है बेहतर सुविधाएं:-डा0 कश्यप

 
करनाल 20 दिसम्बर, आम जनता को स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए करनाल में 51 एकड   भूमि पर कल्पना चावला राजकीय मैडिक़ल कॉलेज बनाया गया है, इस मैडिकल कॉलेज पर हरियाणा सरकार द्वारा करीब 645 करोड रुपये खर्च किए जा रहे है, अब तक इस मैडिकल कालेज पर करीब 500 करोड रुपये खर्च हो चुके है।  कालेज के निमार्ण का कार्य लगभग पूरा हो चुका है तथा इसमें उपयोग होने वाले आधुनिक तकनीक के उपकरणों को भी स्थापित किया जा रहा है। 
कल्पना चावला मैडिकल कॉलेज के निदेशक डा0 सुरेन्द्र कश्यप ने बताया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस मैडिकल कॉलेज में विशेष स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए स्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए है। मुख्यमंत्री  के निर्देशानुसार मैडिकल कॉलेज में मरीजों को सभी आवश्यक सुविधाएं दी जा रही है। मैडिकल कॉलेज में प्रतिदिन लगभग 2 से 3 हजार तक ओ.पी.डी हो रही है। इस मैडिकल कॉलेज में 350 बैड है और भविष्य में इसकी क्षमता 500 बैड की हो जाएगी।  मैडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया द्वारा  कालेज में एमबीबीएस की प्रथम वर्ष की 100 सिटों की अनुमति मिली है और यहां कक्षाएं आरम्भ हो गई है। मैडिकल कॉलेज में आने वाले लोगों की सुविधा के लिए   महात्मा गांधी चौंक से हस्पताल चौंक तक सडक़ को चौडा़ करने का कार्य प्रगति पर है जिस पर करीब 6 करोड 4 लाख रूपये खर्च किए जाएगें। इसके अतिरिक्त  महाराजा अग्रसेन चौंक से महात्मा गांधी चौंक तक भी सडक़ को चौडा किया जाएगा। 
-----------------
जिला में पेयजल पर करीब 65 करोड 23 लाख रूपये किए जा रहे है खर्च:-उपायुक्त डा0 आदित्य दहिया
11 करोड 52 लाख रुपये से 28 विकास कार्य हुए पूरे, 53 करोड 72 लाख रुपये की लागत  से होने वाले 59 विकास कार्य प्रगति पर।  
 करनाल 20 दिसम्बर,  हरियाणा सरकार पिछले तीन वर्षों के दौरान लोगों को स्वच्छ पेय जल उपलब्ध करवाने के उदेश्य से जिला में करीब 1152 लाख रूपये की राशि से पेयजल सेवा के 28 कार्य पूरे हो चुके है। इसके अलावा पेयजल सेवाओं पर 5372 लाख रुपये की राशि के 59 कार्य प्रगति पर है। यह जानकारी उपायुक्त डा0 आदित्य दहिया ने दी। 
उन्होंने बताया कि जन स्वास्थ्य विभाग करनाल डिविजन नम्बर एक द्वारा जिला में पिछले तीन वर्षों के दौरान गांव बालू में 19 लाख 26 हजार रुपये की राशि से जलघर, डेरा पिडोरिया में करीब 42 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, दुपेडी में करीब 64 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, गांव जलमाना में करीब 53 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, गांव शेखुपुरा में  करीब 47 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, करनाल शहर में करीब 2 करोड रुपये की राशि से नई सप्लाई पाईप लाईन व जलघर तथा 96 लाख रुपये की लागत से पानी जांच लैब की स्थापना, गांव थल में  करीब 24 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, गांव ठरी में  करीब 49 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, इन्द्री में  करीब 20 लाख रुपये की राशि से सिवरेज व्यवस्था, निसिंग में  करीब 108 लाख रुपये की राशि से नई पाईप लाईन का कार्य किया गया है। 
इसी प्रकार उन्होंने बताया कि नीलोखेडी में करीब 1 करोड रुपये की लागत से पुरानी पाईप लाईन की जगह नई पाईप लाईन, भादसों गांव में करीब 20 लाख रुपये की राशि से जलघर, गौरगढ़ में करीब 2 लाख रुपये की राशि से जलघर, अंजलथली में करीब 4 लाख रुपये की राशि से जलघर व सप्लाई पाईप लाईन, असंध शहर में करीब 36 लाख रुपये की राशि से सीवरेज लाईन, इन्द्री में  करीब 227 लाख रुपये की राशि से एसटीपी का निर्माण तथा करनाल के ओल्ड रमेश नगर व तरावडी में करीब 3-3 लाख रुपये की लागत से जलघर का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है।