News Description
सफाई कर्मचारियों को तोहफा, महीने की 7 तारीख से पहले मिलेगा वेतन

करनाल 19 दिसम्बर,  स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चन्द्र ने कहा कि हरियाणा सरकार ने ग्रामीण सफाई कर्मचारियों को नये वर्ष को तोहफा दिया है,  अब उनका वेतन हर महीने की 7 तारीख तक बैक खाते में पहुंचेगा और सरपंच अपनी मनमानी नही करेगें। सफाई कर्मचारियों को भी अपने कार्य का स्वयं आकंलन करना होगा ताकि हरियाणा प्रदेश स्वच्छता का आदर्श बन सकें। 
सुभाष चन्द्र मंगलवार को स्थानीय विकास सदन में स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा की ओर से स्वच्छता कार्यशाला में उपस्थित सफाई कर्मचारियों को सम्बोधित कर रहे थे। कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चन्द्र ने अपना उदबोधन भारत माता की जय तथा हम सबने ठाना है देश को स्वच्छ बनाना है के नारे से शुरू किया और कहा कि सैनिक दो प्रकार के होते है एक वो सैनिक जो सीमा पर अपने देश की रक्षा कर रहे है दूसरे सैनिक हमें गंदगी रूपी राक्षक से बचा रहे है, वह सैनिक कोई ओर नही बल्कि सफाई कर्मचारी है। 
उन्होंने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन के सफल आयोजन तथा कर्मचारियों के हितों की सुरक्षा तथा उनके विकास के लक्ष्य को लेकर प्रदेश भर में कार्यशालाओं का आयोजन किया जा रहा है और अब तक 22 जिलों में इस प्रकार की कार्यशालाओं का आयोजन हो चुका है। इन कार्यशालाओं के माध्यम से कर्मचारियों की ओर से जो मांग व सुझाव आ रहे है, सभी जिलों की कार्यशालाओं के आयोजनों के बाद सरकार के समक्ष रखा जाएगा और उनका समाधान करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश  को स्वच्छ व स्वस्थ बनाने का जो संकल्प लिया, उसी का अनुसरण करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रदेश में कार्य कर रहे है। इस मिशन में सफाई कर्मियों का सहयोग अनिवार्य है, आप लोगों के सहयोग के बिना यह मिशन अधूरा है। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में ऐसी सरकार है जो अन्त्योदय के सिद्धांत पर कार्य कर रही है ताकि हर वर्ग के लोगों का विकास हो। 
इस मौके पर भाजपा के जिला अध्यक्ष जगमोहन आनन्द ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सोच है कि हर वर्ग के लोगों का एक समान सम्मान और विकास हो। इसके लिए सरकार द्वारा अनेक जन कल्याणकारी योजनाएं लागू करके प्रदेश के लोगों को सीधा लाभ पहुंचाया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने लाल किले से अपने पहले सम्बोधन में देश को स्वच्छ बनाने का संकल्प लिया और स्वच्छ भारत मिशन की शुरूआत की। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने भी प्रदेश को स्वच्छ बनाने का संकल्प लिया और इस कार्य के लिए अपने बीच के साथी सुभाष चन्द्र को कार्यकारी उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी सौपी, जिसे वह बखुबी निभा रहे है।