News Description
गंदगी भरे माहौल में पढ़ाई कर रहे सरकारी स्कूलों के बच्चे

कैथल : हरियाणा राज्य बाल संरक्षण आयोग की सदस्य रमनदीप कौर ने गुहला खंड के पांच स्कूलों में छापेमारी की। पांच स्कूलों में से राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय चीका को छोड़ सभी स्कूलों की हालत दयनीय थी। किसी भी स्कूल में न तो बच्चों को पीने को साफ पानी दिया जा रहा है और न ही बैठने को साफ सुथरे क्लासरूम और आंगन। रमनदीप कौर निरीक्षण के दौरान सबसे पहले सलीमपुर के राजकीय कन्या विद्यालय में पहुंची तो वहां विज्ञानशाला में ऑक्सीजन सिलेंडर चालू हालत में नहीं था और सभी विज्ञानशाला के यंत्रों पर धूल जमी थी। सफाई व्यवस्था खराब थी। पानी की टंकी लीक मिली और चालू हालत में भी नहीं थी। इसके अलावा बरामदे में चूल्हा रखा मिला और क्लासरूम को स्टोर में तबदील किया गया था। राजकीय कन्या स्कूल चीका में भी गंदगी ही गंदगी मिली। शौचालयों की हालत खस्ता थी। कंप्यूटर लैब व साइंस लैब बंद पड़ी थी। राजकीय प्राथमिक पाठशाला डेरा प्रताप ¨सह में साइंस लैब में ऑक्सीजन सिलेंडर चालू हालत में नहीं थी, सफाई व्यवस्था भी खराब थी। स्कूल में पीने के लिए भी बच्चों को साफ पानी नहीं दिया जा रहा था। क्लासरूम को स्टोर बनाया गया था और बरामदे में मिड डे मील का चूल्हा जल रहा था। राजकीय प्राथमिक पाठशाला बदसूई में साफ सफाई बिल्कुल नहीं थी, शौचालय में गंदगी ही गंदगी मिली और क्लासरूम को ही चौकीदार का कमरा बनाया गया था। सरकारी स्कूलों में हालातों को देखने के बाद आयोग की सदस्य ने संबंधित सभी विभागों के अधिकारियों को तुरंत ही इनको सुधारने के निर्देश दिए और कहा कि वह दोबारा निरीक्षण करे तो हालात में सुधार मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि आगामी कार्रवाई के लिए सभी स्कूलों की रिपोर्ट आयोग को भेजी जा रही है।