News Description
फैक्टरी लगाने पहुंचे लोगों को ग्रामीणों ने खदेड़ा

यमुनानगर : अमादलपुर के निकट स्थित सुघ गांव में प्लाइवुड फैक्टरी लगाने पहुंचे लोगों को ग्रामीणों ने खदेड़ दिया। फैक्टरी का काम भी बीच में ही रूकवा दिया। ग्रामीणों ने फैक्टरी मालिकों व जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। मामले की सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच की। दोनों पक्षों को बातचीत के लिए थाने में बुलाया गया।

सुघ व सुघ माजरी के स. तलिवंद्र ¨सह, ह¨रद्रपाल, पूर्व सरपंच मेहर ¨सह, गगन, राजकुमार, राजबीर, सावित्री देवी, महिमा देवी, स¨लद्रों, संतोष, शिमला, पंचायत सदस्य कुसम, कमलेश, इरशाद, मुस्तकीन, अरशफ, हाजी, अदरीश ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा गांव सुघ व सुघ माजरी के बीच में प्लाइवुड फैक्टरी लगाई जा रही है। दोनों गांवों की पंचायत एक ही है। उन्होंने कहा कि इस फैक्टरी के लगने से दोनों गांवों का वातावरण प्रदूषित हो जाएगा। लोग कई तरह की बिमारियों की चपेट में आएंगे। कल को फैक्टरी मालिक सड़क पर लकड़ी डालेंगे जिससे सड़क तंग हो जाएगी। लोगों को आने जाने में दिक्कत होगी। वहीं फैक्टरी के वाहनों से हादसा होने का भी खतरा पैदा हो जाएगा। दूसरा यह फैक्टरी आबादी के बिल्कुल नजदीक है। इसलिए इस फैक्टरी का सभी को नुकसान ही होगा। वे इस फैक्टरी को यहां पर लगने नहीं देंगे। मंगलवार को फैक्टरी मालिक हुडा सेक्टर -15 निवासी राजीव यहां काम शुरू कराने पहुंचे। मजदूरों ने काम भी शुरू कर दिया था। लेकिन ग्रामीणों को जब इसकी सूचना मिली तो वो मौके पर पहुंचे और काम रूकवा दिया। ग्रामीणों ने नारेबाजी शुरू कर दी। फैक्टरी मालिक ने फोन कर थाना बूड़िया पुलिस को मौके पर बुला लिया। पुलिस ने दोनों पक्षों की बात सुनी।

उधर फैक्टरी के मालिक राजीव ने बताया कि उनके पास सभी दस्तावेज हैं। जमीन पर फैक्टरी लगाने के लिए उन्होंने संबंधित विभाग से सीएलयू ले रखी है। ग्रामीणों द्वारा उन्हें बेवजह परेशान किया जा रहा है। उन्होंने ये भी कहा कि गांव सुघ की सरपंच से उन्होंने फैक्टरी लगाने की एनओसी भी ले रखी है। जब पंचायत को एतराज नहीं है तो ग्रामीण इतना हल्ला क्यों कर रहे हैं। पुलिस ने दोनों पक्षों से हंगामा न करने के लिए कहा। उन्होंने बातचीत के लिए थाने में बुलाया