News Description
एनएसयूआइ हरियाणा में सांसद दीपेंद्र का दबदबा, बुद्धिराजा बने प्रधान

चंडीगढ़ : हरियाणा में पहली बार वोटिंग के जरिए हुए भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआइ) के चुनाव में सांसद दीपेंद्र हुड्डा गुट का दबदबा रहा। एनएसयूआइ की हरियाणा इकाई के अध्यक्ष पद पर गोहाना के दिव्यांशु बुद्धिराजा भारी मतों से चुनाव जीते हैैं। दिव्यांशु पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ में छात्र संघ के अध्यक्ष रह चुके हैैं। वह कानून की पढ़ाई कर रहे हैैं।

एनएसयूआइ के अध्यक्ष, महासचिव, दो सचिव और नेशनल डेलीगेट्स के लिए 16 से 18 दिसंबर तक राज्य भर में चुनाव हुए, जिसमें 2234 वोट पड़े तथा 423 निरस्त हो गए। अध्यक्ष पद के लिए सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा समर्थक दिव्यांशु बुद्धिराजा और हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर समर्थक नवदीप (सिरसा) के बीच टक्कर रही। रेवाड़ी के नवीन को भी कांग्रेस के एक बड़े नेता का समर्थन हासिल रहा है।

दिव्यांशु ने 1375 वोट हासिल किए और चुनाव जीत गए। नवदीप को 303 और नवीन को 31 वोट मिले। अध्यक्ष पद के बाकी दो दावेदारों भारती को 51 व प्रशांत को 35 मतों में संतोष करना पड़ा। महासचिव पद पर प्रदीप घनघस 431 वोट हासिल कर विजयी रहे। रोहतक के घनघस भी सांसद दीपेंद्र हुड्डा समर्थक हैैं। बाकी उम्मीदवारों आकाश को 48, सुमित को 123, मुकेश 60, विकास 165 तथा साहिल को 103 वोट पड़े।

सचिव के पद पर गौरव 212 और कृष्ण 316 वोट लेकर विजयी रहे। दोनों ही दीपेंद्र हुड्डा समर्थक हैैं। नेशनल डेलीगेट्स के पदों पर जगदीप जग्गा (अंबाला) तथा वीरेंद्र घनघस (रोहतक) चुनाव जीते हैैं, जो दीपेंद्र समर्थक हैैं। दिव्यांशु से पहले संदीप बूरा एनएसयूआइ के अध्यक्ष थे। सांसद दीपेंद्र ने एनएसयूआइ की हरियाणा टीम को जीतने पर बधाई दी है। युवक कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष सचिन कुंडू भी दीपेंद्र हुड्डा समर्थक हैैं