# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
आजादी के लिए तिब्बत युवा काग्रेस कर रहा भारत जागरण यात्रा

बहादुरगढ़:c तिब्बत की आजादी के लिए भारत जागरण यात्रा शुरू की गई है। यह यात्रा हर रोज भारत के विभिन्न शहरों में काम कर रहे तिब्बतियों के पास पहुचती है और यात्रा के उद्देश्य के बारे में उन्हे जागरूक करती है। भारत जागरण यात्रा को लेकर तिब्बत युवा काग्रेस ने हस्ताक्षर अभियान भी चलाया हुआ है, जिसके तहत मंगलवार को बहादुरगढ़ में रह रहे तिब्बत के परिवारों के साथ शहर के लोगों से समर्थन मागा। इस मौके पर वे बहादुरगढ़ तिब्बत बाजार के साथ-साथ शहर के मुख्य बाजारों में भी गए जहा उन्होंने तिब्बत की आजादी की माग के कारणों को बताया व समर्थन मागा।

तिब्बती युवा काग्रेस के सास्कृतिक सचिव टाशी तंडूप ने कहा कि वे भारत की जनता को बताना चाहते हैं कि तिब्बत एक स्वंतत्र देश था, जिस पर विस्तारवादी चीन सरकार ने गैरकानूनी तरीके से बलपूर्वक कब्जा लिया। यह मानवता के मौलिक अधिकार के विरुद्ध है। तिब्बत की स्वतंत्रता तिब्बतियों को जन्मसिद्ध अधिकार है। तिब्बत की आजादी भारत की सुरक्षा से सीधा संबंध रखती है। इसलिए इन मुद्दों पर भारत में राष्ट्रव्यापी समर्थन जुटाने के लिए अभियान शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि यह अभियान अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस के अवसर पर धर्मशाला, सिलीगुडी और चेन्नई से शुरू किया गया है। उन्होंने कहा कि एक महीने के अंदर भारत जागरण यात्रा 150 शहरों में दस्तक देगी। तिब्बत यूथ काग्रेस भारतीय जनता से अपील करती है कि वह अपने विधायकों से विधानसभाओं में तिब्बत के मुद्दों को उठाने तथा नैतिक समर्थन प्रदान करने के लिए आग्रह करें। यूथ काग्रेस ने भारत सरकार से अपील की है कि तिब्बत नीति की समीक्षा कर इस बात को मान्यता दे कि तिब्बत ऐतिहासिक रूप से एक स्वतंत्र देश था, जिस पर चीन ने कब्जा कर रखा है। यूथ काग्रेस की वित्त सचिव डिक्की ने कहा कि तिब्बत यूथ काग्रेस इस कथन पर बल देता है कि तिब्बत की स्वंतत्रता ही भारत की सुरक्षा और हिमालय क्षेत्र में शाति बनाए रखने का सबसे सुरक्षित उपाय है। उन्होंने बताया कि बहादुरगढ़ में आने से पहले हिमाचल प्रदेश के धर्मशाला शहर में रह रहे तिब्बतियन यूथ काग्रेस ऑर्गेनाइजेशन के एक शिष्टमंडल ने सोमवार को स्वास्थ्य, खेल एवं युवा कार्यक्रम मंत्री अनिल विज को भी ज्ञापन सौंपा था। शिष्टमंडल में ऑर्गेनाईजेशन के वरिष्ठ पदाधिकारी टाशी धूनडब, डीकी लामो और तिब्बतन समाज के पूर्व अध्यक्ष मौंसू व अन्य भी साथ थे। इन लोगों ने तिब्बत की स्वतंत्रता को लेकर चलाए जा रहे भारत जागरण यात्रा के माध्यम से उनका समर्थन एवं सहयोग भी मागा।