# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
संस्कारों की कमी के कारण टुट रहे है समाज व परिवार: ओएसडी

करनाल 19 दिसम्बर,  सर, मेरा विवाह पांच वर्ष पहले अमीन गांव में हुआ था, परिवार वालों ने शादी में भी काफी खर्च किया था, परन्तु मेरे पति राहुल चौहान मुझे धोखा देकर विदेश चले गए है, ससुराल वाले भी मुझे ददकार रहे है,  मेरे परिवार वालों ने इस बारे में पंचायत से भी विचार विर्मश किया परन्तु मेरा ससुर भी पंचायत के फैसले से आना-कानी कर रहा है, पता चला है कि वह भी अपने लडके के पास विदेश जाने की तैयारी कर रहा है, मुझे न्याय दिलाया जाएं।
 
यह फरियाद मंगलवार को ओएसडी के जनता दरबार में करनाल सैक्टर 7 की रहने वाली रीनू ने ओएसडी अमरेन्द्र सिंह के सामने रखी। लडक़ी की बात को सुनकर ओएसडी  भावुक हुए, उन्होंने कहा कि संस्कारों की कमी के कारण समाज व परिवार टुट रहे है, क्या किया जाए।  उन्होंने तुरन्त दुरभाष पर सम्बन्धित थाना प्रभारी को सिफारिश की कि  रीनू को न्याय दिलाया जाए, हो सके तो आपस में पंचायती फैसले को प्राथमिकता दें, पंचायती फैसले के लिए लडक़ी के ससुर पक्ष को तैयार करें ताकि लडक़ी को न्याय मिल सकें।
 
जनता दरबार में लक्ष्मी देवी व मीना ने ओएसडी से शिकायत की कि हम नगर निगम में कई वर्षों से सफाई का कार्य कर रही है, परन्तु अब ठेकेदार ने उन्हें हटा दिया है, अब हम कहां जाए, ठेकेदार मनमानी पर उतारू है। ओएसडी ने सज्ञान लेते हुए ठेकेदार को दुरभाष पर कहा कि किसी भी पुराने सफाई कर्मचारी को काम से नही हटाना है, हमारा काम रोजगार देना है छीनना नही। अलेवा गांव की ममता ने ओएसडी के जनता दरबार में अपने ससुराल वालों पर आरोप लगाया कि मेरे पास बेटी होने के कारण ससुराल वाले मुझे घर में नही रहने देते है, बेटी को जन्म देने में मेरा क्या कसुर है, मेरी हाथ जोडकर विनती है कि मुझे न्याय दिलाया जाए।
 
ओएसडी ने तुरन्त पुलिस अधीक्षक जींद को कहा कि इस मामले पर गहनता से जांच करवाई जाए, यदि इसमें लडक़ी के ससुराल वाले दोषी पाए जाते है तो उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएं।