# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
सीएम ¨वडो पर शिकायतों के तुरंत समाधान को बनाया स्पेशल सैल

 करनाल सीएम ¨वडो पर दर्ज हुई शिकायतों पर अब समाधान में देरी नहीं होगी। प्रशासन की ओर से शिकायत के तुरंत समाधान के लिए स्पेशल सैल बनाया गया है। जो शिकायत दर्ज होने से लेकर निपटान तक हर स्टेप पर निगाह रखेगा। ताकि समाधान में देरी के कारण ओवरड्यू के आंकड़े को कम किया जा सके और सीएम ¨वडो पर शिकायतों के निपटान में प्रदेश में पहले स्थान पर लाया जा सके।

सीएम ¨वडो पर दर्ज कुल शिकायतों में से विभिन्न विभागों की ऐसी 128 शिकायतें पें¨डग हैं, जिनका समाधान के लिए निर्धारित समय सीमा भी पूरी हो चुकी है। सीएम ¨वडो पर दर्ज शिकायत का निपटारा 30 दिन में होना होता है। लेकिन इनमें से ज्यादातर शिकायतें पिछले करीब तीन माह से समाधान की इंतजार में है। इनके समाधान में देरी होने का कारण शिकायत का दो या उससे अधिक विभागों से जुड़ा होना है। प्रदेश सरकार ने 25 दिसंबर 2014 को जिला मुख्यालय पर सीएम ¨वडो की स्थापना की गई थी। अब तक कुल 6440 शिकायतें दर्ज हुई हैं। इनमें से 6082 शिकायतों का निपटारा हो चुका है। जबकि 303 शिकायतों को निपटाने का कार्य जारी है। जिनमें 128 ओवरड्यू शिकायतें भी पें¨डग है। इसके अलावा 85 शिकायतें स्पष्टीकरण के लिए भेजी गई हैं।

कैंप और डीसी लेवल दोनों जगह काम करेगी टीम

शिकायतों के समाधान के लिए गठित किए गए स्पेशल सैल की टीम कैंप और डीसी दोनों जगहों पर काम करेगी। ¨वडो पर दर्ज होने वाली शिकायत की अंडरटे¨कग करने के बाद संबंधित विभाग ने उस पर क्या काम किया है। इसका पूरा ब्यौरा लिया जाएगा। स्पेशल सैल की टीम में सीएम ¨वडो की नोडल अधिकारी सीटीएम के अलावा सभी सीएम ¨वडो सहायक और ओपरेटर्स को शामिल किया गया है।

पंचायत विभाग की शिकायतें अधिक

सीएम ¨वडो पर रोजाना 10 से 15 शिकायतें दर्ज होती हैं। इनमें सबसे ज्यादा शिकायतें पंचायत विभाग से संबंधित हैं। इसके अलावा समाधान में देरी के मामले में भी यह पहले नंबर पर है। सीएम ¨वडो पर ओवरड्यू कुल 128 शिकायतों में 79 शिकायतें पंचायत विभाग की हैं। इनमें 16 डीडीपीओ लेवल और 63 बीडीपीओ करनाल स्तर की है। इसके अलावा समाज कल्याण विभाग, नगर निगम, हुडा, जिला परिषद व ईपीएफ विभाग संबंधित शिकायतें भी लंबित है।