News Description
मिड डे मील की जानकारी नहीं दे रहे 70 प्रतिशत स्कूल, रुकेगा वेतन

जींद : मिड डे मील की सूचना एएमएस (आउटोमेटिड मॉनिट¨रग सिस्टम) पर नहीं देने वाले इंचार्ज व स्कूल मुखिया का दिसंबर माह का वेतन रुक सकता है। मौलिक शिक्षा निदेशक ने जिला मौलिक शिक्षा अधिकारियों पत्र जारी कर मिड डे मील की सूचना प्रतिदिन देना सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। जिले में लगभग 70 प्रतिशत स्कूल एएसएम पर अपडेट नहीं कर रहे हैं।

एमएचआरडी के निर्देशानुसार मिड डे मील का काम देखने वाले इंचार्ज या स्कूल मुखिया को कितने बच्चों ने मिड डे मील खाया है, इसकी जानकारी एएमएस पर भेजनी होती है। इसमें 15544 टोल फ्री नंबर होता है, जिस पर फोन के मैसेज में जाकर एमडीएम-कितने बच्चों ने खाना खाया, लिखकर भेजना होता है। जिले में कुल 741 प्राइमरी व मिडल स्कूलों में लगभग 83 हजार बच्चों को मिड डे मील दिया जाता है। अभी केवल 30 प्रतिशत स्कूल ही एएमएस पर जानकारी दे रहे हैं। निदेशालय की तरफ से आए पत्र में निर्देश दिए गए हैं कि सभी स्कूलों से रूटीन में एएमएस अपडेट कराया जाए। अगर इसके बावजूद कोई स्कूल एएमएस अपडेट नहीं कर रहा है, तो संबंधित मिड डे मील इंचार्ज या स्कूल मुखिया का नाम व उसका संपर्क नंबर मुख्यालय भेजा जाए। उनका दिसंबर माह का वेतन रोका जाएगा।

----------------

निदेशालय के निर्देशानुसार सभी खंड शिक्षा अधिकारियों को संबंधित स्कूलों में एएमएस अपडेट करने के लिए कहा गया है। अगर इसके बावजूद कोई स्कूल सूचना नहीं देता है, तो संबंधित स्कूल के मिड मील इंचार्ज या स्कूल मुखिया के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।