News Description
अपने फैसले पर बैकफुट पर निकाय मंत्री

यमुनानगर : संत निश्चल ¨सह पब्लिक स्कूल के अंदर से गुजर रहे नगर निगम के नाले का मामला सोमवार को एक बार फिर जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक में उठा। पिछली बैठक में दो माह में मामले की जांच पूरी करने की बात कहने वाली शहरी स्थानीय निकाय मंत्री कविता जैन इस बार बैकफुट पर नजर आई।

उन्होंने इस बार भी इसकी शिकायत उन्हें निजी तौर पर करने की बात कही, लेकिन जब सरोजनी कॉलोनी फेस-वन सोसाइटी के सदस्यों ने बताया कि निजी तौर पर शिकायत तो उन्होंने पिछली मी¨टग के तीन दिन बाद ही भेज दी थी तो सब हक्के-बक्के रह गए। सदस्यों ने डाक से भेजी गई स्पीड पोस्ट की रसीद भी दिखाई।

कविता जैन जिला सचिवालय में जिला कष्ट निवारण समिति की बैठक की अध्यक्षता करने पहुंची थीं। सोसाइटी के उपप्रधान सुरेंद्र ¨सह, सदस्य डॉ. अरुण गुप्ता ने मंत्री कविता जैन को बताया कि आपने दो माह में इस मामले की जांच करने को कहा था। डेढ़ माह तो बीत गया। ऐसे में जांच कैसे पूरी होगी? इस पर कविता जैन ने कहा कि अब तक डाक से आपकी कोई शिकायत नहीं मिली है।

जब शिकायत ही नहीं मिली तो जांच कैसे होगी? जब शिकायत मिल जाएगी तो दो माह की जांच का समय शुरू होगा। सोसाइटी सदस्यों ने बताया कि नगर निगम के अधिकारियों ने मौके पर सुबह 11 बजे का समय दिया था, लेकिन कमिश्नर शाम को चार बजे पहुंचे। इस पर जैन ने अफसरों से आगे से समय का ध्यान रखने की हिदायत दी।