News Description
ग्रामीणों ने स्कूल पर लगाया ताला, दो शिक्षकों के तबादला की मांग

गोहाना : गांव खंदराई स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय की छात्रा की गुमनाम चिट्ठी पुलिस के पास पहुंचने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सरपंच पक्ष के ग्रामीणों ने सोमवार को विद्यालय के मुख्य गेट पर ताला कर दो शिक्षकों (दंपति) का तबादला करने की मांग की। सरपंच के दूसरे पक्ष के ग्रामीणों व कई विद्यार्थियों ने दोनों शिक्षकों के तबादले पर एतराज जताया। दोनों पक्षों के ग्रामीणों ने गुमनाम चिट्ठी की सच्चाई सामने लाने की मांग जरूर की। स्कूल पर ताला लगाने की सूचना मिलने पर जिला शिक्षा अधिकारी (डीइओ) सुमन नैन मौके पर पहुंची और दोपहर ढाई बजे ग्रामीणों को समझा कर ताला खुलवाया।

सोमवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे सरपंच पक्ष के ग्रामीण विद्यालय पहुंचे और मुख्य गेट पर ताला लगा दिया। पंच संजय, प्रवीण, ईश्वर व विजय ने कहा कि विद्यालय में सेवारत शिक्षक देवेंद्र व उनकी पत्नी शिक्षिका अजीता ठीक से पढ़ाई नहीं करवा रही हैं। करीब दो माह पहले शिक्षक दंपति हाजिरी लगा कर स्कूल से गायब हो जाते थे। उस समय ग्रामीणों ने बैठक करके खंड शिक्षा अधिकारी से दोनों का तबादला करने की मांग की थी। अब उस मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए गुमनाम चिट्ठी का षड्यंत्र रचा गया है। सरपंच पक्ष के ग्रामीणों ने दंपति शिक्षकों का तबादला करने की मांग की। इस पर दूसरे पक्ष के ग्रामीणों व कई विद्यार्थियों ने एतराज जताया और कहा कि मामले को राजनीतिक तूल देते हुए दंपती शिक्षकों को बदनाम किया जा रहा है। दोनों पक्षों के ग्रामीण कह रहे हैं कि गुमनाम चिट्ठी की सच्चाई सामने आनी चाहिए। ताला लगाने की सूचना मिलने पर डीईओ सुमन नैन, मुंडलाना खंड के शिक्षा अधिकारी परमजीत चहल, गोहाना खंड के शिक्षा अधिकारी सुभाष भारद्वाज व पुलिस मौके पर पहुंची। अधिकारियों के समझाने पर ग्रामीणों ने दोपहर ढाई बजे स्कूल का ताला खोल दिया।

डीइओ ने गुमनाम चिट्ठी के मामले की जांच करवाने की बात भी कही। जांच में जो दोषी मिलेगा उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी। विद्यार्थियों ने कहा कि विद्यालय का माहौल खराब होने से उनकी पढ़ाई बाधित हो रही है