News Description
रबी फसल के लिए क्षेत्र में यूरिया की किल्लत

हथीन : रबी की फसल के लिए क्षेत्र में यूरिया खाद की कमी है। दुकानों पर यूरिया खाद नहीं है। जिन दुकानदारों के पास है भी, वे ब्लैक में खाद बेचकर मोटा मुनाफा कमा रहे। मंडी में इफको खाद केंद्र पर खाद के साथ किसानों को कीट नाशक दवाओं को थोपा जा रहा है। जिससे किसानों में नाराजगी है।

बुआई के बाद गेहूं की फसल में पहले पानी (भूड बुझाना) के दौरान यूरिया की जरूरत होती है। ताकि फसल पौष्टिंक हो सके। ऐसे में किसान खेतों में यूरिया खाद का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन क्षेत्र में यूरिया की कमी है। ज्यादातर प्राईवेट दुकानों पर यूरिया खाद नहीं है। जिन पर है भी वे दुकानदार किसानों को खाद नहीं होने का बहाना बनाकर टरका रहे हैं। ऐसे में किसानों को दूसरे शहरों से खाद लाना मजबूरी हो रहा है।

अनाज मंडी में इफको खाद का सेंटर है, वहां पर यूरिया के साथ किसानों को कीटनाशक दवाएं लेने पर ही खाद दिया जा रहा है। किसानों का कहना था कि उन्हें खाद के साथ कीटनाशक दवाओं को ऊंचे दामों पर बेचा जा रहा है। कई किसान तो बगैर खाद के लौटे आए। किसानों का आरोप था कि कई दुकानदारों ने खाद गोदामों में भरा हुआ है। जो चोरी छुपे किसानों से ज्यादा पैसे वसूल रहे हैं। किसानों ने प्रशासन से मामले में दखल की मांग की है।