News Description
सर्वे में टीबी के 300 संभावित केस मिले, पॉजिटिव मरीजों का इलाज शुरू

पानीपत: राष्ट्रीय संशोधित क्षय रोग उन्मूलन कार्यक्रम (आरएनटीसीपी ) के तहत 4 से टीबी एक्टिव फाइंडिंग फेज वन का सोमवार को समापन हो गया। स्वास्थ्य विभाग की 216 टीमों ने स्लम एरिया में 4 लाख 80 हजार मरीजों की जांच की। इस दौरान टीबी के लगभग 300 संभावित और 70 पॉजिटिव केस मिले हैं। पॉजिटिव मरीजों का इलाज शुरू हो गया है।

जिला क्षय रोग अधिकारी एवं उप सिविल सर्जन डॉ. मुनेश गोयल ने बताया कि टीबी एक्टिव फाइंडिंग फेज वन 18 दिसंबर तक चलना था। इस दौरान टीमों ने डोर-टू-डोर दस्तक देकर, संभावित मरीजों को चिन्हित किया। संभावितों को पहले बलगम आदि जांच के लिए नजदीकी केंद्र में भेजा गया। सीबी नॉट मशीन से जांच कराकर, पॉजिटिव केस चिन्हित हुए। डॉ. गोयल ने बताया कि अब जिला पानीपत में साधारण टीबी के लगभग 1800 मरीज हो गए हैं।

मल्टी ड्रग रेजिस्टेंस के 48 व एक्सट्रीमली ड्रग रेस्सिटेंस के 5 मरीज हैं। भविष्य में मरीजों की संख्या में वृद्धि संभव है। मरीजों को रोजाना दवा सेवन को कहा गया है