News Description
सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर पाच स्थानों पर बनाए अस्थायी रैन बसेरे

बहादुरगढ़:सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शहर में पाच स्थानों पर अस्थायी रैन बसेरे बनाए गए है। इनमें गद्दे, रजाई समेत पेयजल आदि की सुविधाएं मुहैया कराई गई है। स्थायी रैन बसेरा का निर्माण समय पर न होने की वजह से नगर परिषद की ओर से कदम उठाया गया है। साथ ही नगर परिषद की ओर से औद्योगिक क्षेत्र में दो पोर्टेबल केबिन शेल्टर भी रखवाए जाएंगे ताकि बेघरों को किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े।

दरअसल अब तक कई शहरों में स्थायी रैन बसेरा का निर्माण नहीं हो सका है। ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने 23 नवंबर को एक मामले की सुनवाई करते हुए आदेश दिए है कि जल्द से जल्द बेघर लोगों को कड़ाके की ठड से बचाने के लिए रैन बसेरों के उचित प्रबंध किए जाएं। दिसंबर माह के अंदर-अंदर ये प्रबंध करने के आदेश दिए गए थे नहीं तो संबंधित निकाय के अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के भी आदेश पारित किए गए थे। इसी के चलते नगर परिषद ने छोटूराम धर्मशाला, रेलवे रोड स्थित देवकरण धर्मशाला, शिव मंदिर, नाहरा-नाहरी रोड स्थित बैरागी धर्मशाला व रेलवे रोड स्थित नगर परिषद के स्टाफ क्वार्टरों में अस्थायी तौर पर रैन बसेरे बनाए गए है। इनमें आवश्यकता अनुसार गद्दे व रजाइयों की भी व्यवस्था की गई है। पेयजल व शौचालयों का प्रबंध भी इन रैन बसेरों में किया गया है।

वर्जन

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर शहर में पाच स्थानों पर अस्थायी रैन बसेरे बना दिए गए है। इनमें बेघरों को ठहराने के लिए तमाम तरह की आवश्यकता अनुसार सुविधाएं भी मुहैया करा दी गई है।