# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
अधिकारियों की बैठक लेती उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल

दिसंबर। जिले में 21 दिसंबर को होने वाली आपदा प्रबंधनों की मेगा मॉक ड्रिल के लिए उपायुक्त डा. गरिमा मित्तल ने आज लघु सचिवालय में अधिकारियों की बैठक ली। इस ड्रिल दौरान अधिकारियों की जि मेदारी निश्चित की गई।
डीसी ने बताया कि 21 दिसंबर को इस बात का टेस्ट होगा कि आपदा के समय हम कितनी तीव्रता व समझदारी के साथ जान-माल के नुकसान को बचा सकते हैं। इस दौरा सेना के अधिकारी भी मौजूद रहेंगे जो इस मेगा मॉक ड्रिल के दौरान हमारी कमियों को देखेंगे। जिले में ऐसी आपदा के दौरान कितने संसाधन होने चाहिए इसका भी एक आंकड़ा एकत्रित होगा। 
इस दिन के लिए जिले में लघु सचिवालय में एक इमरजेंसी आपरेशन सेंटर होगा जिसमें ज्यादातर विभागों के मुखिया बैठेंगे। 21 को इस अ यास के लिए नारनौल में नागरिक अस्पताल, एडीसी कार्यालय, महावीर चौक की मार्केट, पीजी कालेज तथा चांदूवाड़ा मौहल्ला में सभी टीमें मॉक ड्रिल करेंगी। 
उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मेगा मॉक ड्रिल के दौरान किसी तरह की अफरा-तफरी न मचे इसके लिए लोगों को बताएं कि यह सिर्फ मेगा मॉक ड्रिल है। हो सकता है कि उस दिन सचिवालय में भारी संख्या में लोग हों और सायरन सुनने के बाद वे घबरा जाएं। ऐसे हालात में जरूरी है कि सबको पहले ही सूचना हो। 
इस मौके पर पुलिस अधीक्षक कमलदीप, एसडीएम महेंद्रगढ़ विक्रम सिंह व एसडीएम नारनौल जगदीश शर्मा के अलावा अन्य अधिकारी मौजूद थे।