News Description
धूप खिलने के बाद भी नहीं मिली ठंड से राहत

 कुरुक्षेत्र रविवार को सुबह ही धूप खिल गई। मगर शीतलहर की वजह से ठंड का प्रभाव कम नहीं हुआ। इसके चलते ठंड और रविवार की छुट्टी में लोग अपने घर पर ही दुबके रहे। ज्यादातर लोगों ने धूप का लुत्फ उठाया। वहीं सायं होते ही शहर की मुख्य सड़कों पर सन्नाटा पसर गया। ठंड का प्रभाव इतना ज्यादा था कि कई सड़कों पर रात को दूर-दूर तक कोई नहीं दिखाई दिया। वहीं अगले कुछ दिन में लोगों को घनी धुंध का सामना करना पड़ सकता है।

मौसम विभाग के अनुसार रविवार को अधिकतम तापमान 18.6 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि न्यूनतम तापमान 5.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। सुबह के समय नमी की मात्रा 90 प्रतिशत एवं सायं के समय नमी की मात्र 80 प्रतिशत रही। शीतलहर 15 किलोमीटर घंटा की स्पीड से चली, जिसके आगे लोग निढाल से हुए घूमते दिखाई दिए। ठंड का प्रभाव इतना था कि दिन के समय भी लोग अपने घरों से कम ही बाहर निकले। कुछ लोग नजर आए वो भी धूप का लुत्फ उठाते रहे। वहीं दो पहिया वाहन चालकों को शीतलहर का प्रभाव सबसे ज्यादा झेलना पड़ा। वाहनों की गति धीमी पड़ गई। वहीं रेलगाड़ियों पर ठंड का असर दिखाई दिया। कई रेलगाड़ियां अपने निर्धारित समय से लेट चली। उधर, रेलवे स्टेशन पर लोगों को ठंड में लंबा इंतजार करना पड़ा।

ये रेलगाड़ियां हुई लेट

फाजिल्का एक्सप्रेस छह घंटे

जनशताब्दी एक घंटा

एएसआर-एनडीएलएस दो घंटा 40 मिनट

डीएलआईएफकेए एक्सप्रेस साढ़े तीन घंटे

एचडब्ल्यूएच-डीएलआइ केएलके मेल एक घंटा

टाटा मूरी एक्सप्रेस एक घंटा 18 मिनट