# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
थर्ड डिग्री देने वाले CIA 3 प्रभारी के खिलाफ लामबंद हुए ग्रामीण

पानीपत : युवक को थर्ड डिग्री देने के मामले में दूसरी बार उग्राखेड़ी गांव में 12 गांवों की महापंचायत हुई। पहले मंगलवार को पंचायत हुई थी। उसमें सीआइए 3 प्रभारी प्रवीण कुमार के खिलाफ कार्रवाई के लिए दो दिन का समय दिया था लेकिन पुलिस अधिकारियों ने उसके खिलाफ कार्रवाई नहीं की। एक घंटे चली महापंचायत में सोमवार को एसपी से मिलने का निर्णय लिया गया। एसपी ने कार्रवाई नहीं की तो ग्रामीण आइजी और सीएम से मिलेंगे।

शुक्रवार को उग्राखेड़ी गांव की चौपाल में मास्टर बलबीर सिंह की अध्यक्षता में हुई पंचायत में सबसे पहले उग्राखेड़ी गांव के दीपक से आपबीती पूछी गई। उसने बताया कि सीआइए 3 प्रभारी प्रवीण कुमार पहले किला चौकी इंचार्ज थे। उसी समय उनसे दोस्ती थी। तीन माह पहले उससे कहासुनी हो गई, इसलिए वह रंजिश रखने लगा। 7 दिसंबर को सीआइए 3 पुलिस उसको बुलाकर ले गई और थर्ड डिग्री दी। पुलिस कर्मियों ने मुंह पर कपड़ा रखकर लगातार पानी डाला, जिससे उसकी सांसें फूल गई। जब उसने कारण पूछा तो वह चुप रहे। पूरी रात उसे थाने में रखकर अगले दिनछोड़ा।

उसने बताया कि थर्ड डिग्री देने से उसकी तबीयत बिगड़ गई और आइबीएम अस्पताल में दाखिल होना पड़ा। मामला उछलते देख दबाव बनाने के लिए सीआइए 3 पुलिस उसके मामा के लड़के अंकुर को उठाकर ले गई और उसके साथ मारपीट की।