News Description
गैरहाजिर रहे मिल्क प्लांट के सीईओ, पंचायती राज के एक्सईएन और सरपंच समेत 3 सस्पेंड

ग्रीवांस कमेटी की मीटिंग में राज्य मंत्री कृष्ण बेदी ने मिल्क प्लांट के सीईओ अशिंद्रपाल प्रसाद और पंचायती राज के एक्सईएन धर्मवीर दहिया व गांव नेजाडेलाखुर्द के सरपंच प्रह्लाद को सस्पेंड करने के आदेश दिए हैं।


राज्य मंत्री कृष्ण बेदी बुधवार को सिरसा के पंचायत भवन में ग्रीवांस कमेटी की मीटिंग की में जब मिल्क प्लांट और पंचायती राज विभाग से संबंधित शिकायतें सुनीं तो उन्होंने पूछा कि मिल्क प्लांट के सीईओ कहां हैं तो जवाब आया कि वे नहीं आए हैं, ऑफिस में ही हैं।

शिकायतकर्ता ने कहा कि सीईओ मीटिंग में आते ही नहीं हैं तो राज्य मंत्री बेदी ने सीईओ काे सस्पेंड करने की अनुशंसा करते हुए कहा कि वे इस बारे में कृषि मंत्री से बात करेंगे और सीईओ को तुरंत प्रभाव से सस्पेंड करने को कहेंगे। हालांकि मिल्क प्लांट की ओर से एएम ने विभाग का पक्ष रखने का प्रयास किया, लेकिन उससे राज्य मंत्री संतुष्ट नहीं हुए। एक अन्य मामले में पंचायती राज विभाग की शिकायत हुई तो डीडीपीओ प्रीतपाल सिंह जवाब देने लगे, लेकिन राज्य मंत्री ने पूछा कि एक्सईएन कौन हैं और वे मीटिंग में आए हैं या नहीं। डीडीपीओ ने कहा कि उनके पास हिसार का भी कार्यभार है और वे हिसार हैं। राज्य मंत्री बेदी ने पूछा कि एक्सईएन की ओर से मीटिंग में अाने या न आने की कोई सूचना किसी के पास आई है या नहीं तो जवाब मिला कि सूचना नहीं आई है। यह सुनकर राज्य मंत्री ने कहा, पंचायती राज एक्सईएन को भी सस्पेंड करो। गांव नेजाडेलाखुर्द के सरपंच के कामकाज करने के तरीके के बारे में आई शिकायत पर राज्य मंत्री बेदी ने डीडीपीओ प्रीतपाल सिंह को निर्देश दिए कि उसे भी सस्पेंड करो।