News Description
ग्रामीणों को पोलिथिन इस्तेमाल नहीं करने को किया प्रेरित

यमुनानगर: पॉलीथिन का निपटान आज बड़ी समस्या बन गई है। जो नालियों में फंस कर गंदगी फैलने का कारण बनती हैं। इसके कारण जोहड़ चोक हो गए हैं। पानी ओवरफ्लो हो रहा है। इसलिए पॉलीथिन का इस्तेमाल नहीं करें। यह बात स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के तकनीकी सहायक समन्वयक भु¨पद्र ¨सह ने कही। वह बृहस्पतिवार को खिजराबाद खंड के चुहड़पुर कलां गांव में ग्रामीणों को जागरूक कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि मिशन के तहत अतिरिक्त उपायुक्त केके भादु के मार्गदर्शन में पोलिथिन हटाओ, पर्यावरण बचाओं अभियान चलाया गया। ठोस कचरे से कमाई के शैड में ले जाकर छटनी करके पुन: प्रयोग में लाने के लिए बाजार में बेचा जा सकता है तथा गलनशील गन्दगी से खाद तैयार की जा सकती है, इसी प्रकार से घरो से निकलने वाले ब्लैक तथा ग्रे-वाटर के निपटान के लिए प्रत्येक घर में एक जालीदार लीच-पीट, मेन हाल के साथ बनाया जाना चाहिए, उन्होने बताया कि ग्राम पंचायत, चुहड़पुर कलां में काफी मात्ऱा में सड़क के किनारे पोलिथिन फेंका गया है तथा उन्होने बताया कि पोलिथिन एक जहर है जो धरती पर कहर है, इसके इस्तेमाल से परहेज करें।

मौके पर सरपंच, ग्राम पंचायत, चुहड़पुर कलां, पंच, आशु शर्मा, जरनैल ¨सह, रविन्द्र कुमार, हर्ष शर्मा, मंगेश कुमारी , नीलम मोटीवेटर, निगरानी कमेटी, आंगनवाड़ी वर्कर, आशा वर्कर सहित ग्रामीणों, स्कूल के बच्चों ने भाग लेते हुए गलियों, फिरनियां, में पॉलीथिन हटाओ अभियान के तहत पॉलीथिन एकत्र करते हुए अपना योगदान दिया।