News Description
खेल-खेल में गणित सीखेंगे बच्चे

सोनीपत : राजकीय प्राइमरी स्कूल के बच्चे अब खेल-खेल में गणित सीखेंगे। उन्हें अध्यापकों द्वारा गिनती, पहाड़े व जमा-घटा इत्यादि खेल की विभिन्न ट्रिक अपनाकर बताया जाएगा। इससे गणित से दूर भागने वाले बच्चों को आसानी से समझाया जा सकेगा। बच्चों को खेल के साथ कैसे गणित पढ़ाना है, इसके लिए शिक्षा निदेशालय द्वारा जिले के प्राइमरी शिक्षकों को ट्रे¨नग दी गई है।

निदेशालय की ओर से सभी प्राइमरी स्कूलों के लिए एक मैथ-किट पहले ही भिजवाई जा चुकी है। इस किट में वह सभी उपकरण होंगे जिसकी मदद से शिक्षक बच्चों को खेल के माध्यम से पढ़ा सकेंगे। अक्सर यह देखने में आता है कि राजकीय स्कूल में पढ़ने वाले अधिकतर बच्चों को गणित विषय के बारे में सामान्य स्तर की भी जानकारी नहीं होती। चौथी व पांचवीं कक्षा में पढ़ रहे बच्चों को पहाड़े व गुणा-भाग तो दूर गिनती व साधारण जमा-घटा की जानकारी भी कम होती है। इसकी वजह ज्यादातर बच्चों का गणित विषय के प्रति उदासीन रहना है। इसलिए शिक्षा निदेशालय की ओर से प्रदेशभर में विशेषज्ञों की टीम बनाकर जिलावार ट्रे¨नग दिलाई गई। इस ट्रे¨नग में संपर्क फाउंडेशन ने सहयोग किया और शिक्षकों को मैथ किट के प्रत्येक उपकरणों के माध्यम से किस तरह सिखाया जा सकता है, इसकी जानकारी दी। यह ट्रे¨नग दो चरणों में हुई जिसमें सभी स्कूलों में गणित पढ़ाने वाले शिक्षकों के बैच बनाकर बुलाए गए।

इस दौरान मुख्य प्रशिक्षक कपिल देव के अलावा संपर्क फाउंडेशन के अंकित, गंगा¨सह व राजकुमार ने शिक्षकों को जरूरी जानकारी दी। बृहस्पतिवार को यह ट्रे¨नग सेशन पूरा हो गया है और अब आने वाले सप्ताह से ही बच्चों को खेल-खेल में गणित सिखाया जाना शुरू हो जाएगा।