News Description
एनएचएम कर्मियों व सरकार के बीच समझौता, बहाल होंगे बर्खास्त कर्मी

चंडीगढ़। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन (एनएचएम) कर्मचारियों के साथ शुक्रवार को हुई वार्ता सिरे चढ़ गई। एनएचएम कर्मचारी एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ हुई बैठक में स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज उनकी कई मांगों पर सहमत नज़र आए। बैठक में बर्खास्त किए गए कर्मचारियों को बहाल करने पर सहमति बनी। बैठक में सीएम के प्रधान सचिव राजेश खुल्लर व स्वास्थ्य विभाग के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।

बैठक में विज ने कर्मचारियों के आंदोलन को गलत ठहराते हुए कहा कि वे केंद्र सरकार की योजना के तहत राज्य में कार्यरत हैं। राज्य सरकार चाहते हुए भी उन्हें नियमित नहीं कर सकती। कर्मचारियों की यह हड़ताल नियमित करने की मांग को लेकर ही थी। सरकार कर्मचारियों की इस मांग को लेकर केंद्र को पत्र लिखने को राजी हो गई है। केंद्र सरकार के सामने कर्मचारियों की पैरवी भी की जाएगी।

बैठक में विज हड़ताल में शामिल रहे उन कर्मचारियों को बहाल करने को राजी हो गए, जिन्हें विगत दिवस ही उन्होंने बर्खास्त करने के आदेश दिए थे। कर्मचारियों की एक और बड़ी मांग को स्वीकृत करते हुए विज ने कहा एनएचएम में कार्यरत कर्मचारियों के सर्विस रूल जल्द बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा, सर्विस रूल अगले वर्ष पहली जनवरी तक लागू कर दिए जाएंगे।

वार्ता सिरे चढ़ने के बाद एनएचएम कर्मचारियों ने अपनी हड़ताल वापस लेने का ऐलान कर दिया। अब शुक्रवार से ये कर्मचारी काम पर लौट आएंगे। वहीं इससे पूर्व सीएम मनोहर लाल की अध्यक्षता में क्लिनिकल एक्ट को लेकर बैठक हुई। उन्होंने विभाग के अधिकारियों से एक्ट को लेकर विस्तृत जानकारी ली। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) की हरियाणा इकाई एक्ट का विरोध कर रही है।