# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
पांच साल पहले तोड़े नहरी खाल को बहाल करवाया

फतेहाबादजल सेवाएं मंडल नहर अधिकारी सतीश कुमार जनेवा की अदालत के आदेश पर जिलेदार सतीश कुमार हलका पटवारी (नहर) भूप सिंह ने पांच साल पहले गिराए गए नहरी खाल को दोनों पक्षों की अन्य हिस्सेदारों की मौजूदगी में मौके पर ही बहाल करवा दिया। मंडल नहर अधिकारी सतीश कुमार जनेवा ने मोगा 4820/लेफ्ट न्यू डिंग माइनर, गांव मेहुवाला के खाल के हिस्सेदार रामकरण की शिकायत पर यह कार्रवाई की। 

अपनी शिकायत में रामकरण ने कुशाल पर इस नहरी खाल को तोड़ने का आरोप लगाते हुए कहा था कि इसके चलते वे अपने खेतों की सिंचाई नहीं कर पा रहा है। इस पर मंडल नहर अधिकारी ने इस खाल को बहाल करने के आदेश पारित किए थे। इसकी पालना को लेकर ड्यूटी मजिस्ट्रेट नायब तहसीलदार प्रेम चंद खोखर, सतीश कुमार जिलेदार, भूप सिंह पटवारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और बिना किसी झगड़े के गिराए गए खाल को बहाल करवा दिया। 

फतेहाबाद। गांव मेहुवाला में विवादित खाल की जगह को कोर्ट के आदेश के बाद खुलवाते हुए। 

खाल को दोनों पक्षों की अन्य हिस्सेदारों की मौजूदगी में मौके पर ही बहाल करवाया