News Description
ग्राम पंचायतें कर सकेंगी कचरे से कमाई

यमुनानगर : खिजराबाद के नवाजपुर, रामपुर खादर व कड़कौली में पॉलीथिन हटाओ पर्यावरण बचाओ अभियान चलाया गया। सहायक समन्वयक भुपिंद्र ¨सह ने ग्रामीणों को बताया कि जिला को 1 नवम्बर 2016 को खुले में शौचमुक्त किया जा चुका है तथा केवल शौचमुक्त होने से पूर्णत: स्वच्छता प्राप्त नहीं की जा सकती। उन्होंने बताया कि अब सरकार का लक्ष्य ठोस व तरल गंदगी के निपटान का कार्य भी उसी उत्साह व लगन से पूर्ण किया जाना है, जिस उत्साह व लगन से खुले में शौचमुक्त करने का कार्य किया गया था।

ग्राम पंचायतों में इन दोनों ठोस तथा तरल गंदगी का निपटान किया जाना अति आवश्यक है। उन्होंने बताया कि ठोस गन्दगी को कचरे से कमाई के शैडों में ले जाकर छंटनी करके ज्वलनशील वस्तुओं को पुन: प्रयोग में लाने के लिए बाजार में बेचा जा सकता है तथा गलनशील गन्दगी से खाद तैयार की जा सकती है। इसी प्रकार से घरों से निकलने वाले ब्लैक तथा ग्रे-वाटर के निपटान के लिए प्रत्येक घर में एक जालीदार लीच-पीट, मेन हाल के साथ बनाया जाना चाहिए जिससे घर के गन्दे पानी को पुन: फिल्टर होकर ग्राउंड वाटर रिचार्ज किया जा सके, तथा जिन परिवारों के घरों में गड्ढा लगाने का स्थान उपलब्ध नहीं है, उन घरों के लिए एक संयुक्त लीच-पीट पंचायती जमीन पर बनाया जाना है। उ

न्होंने बताया कि खिजराबाद की प्रत्येक ग्राम पंचायत में से एक बार सभी पॉलीथिन को हटाया जाएगा। जिसका 23 जनवरी 2018 का लक्ष्य रखा गया है।