News Description
मांगें 31 तक पूरी नहीं हुई तो मंत्रियों के आवास का करेंगे घेराव’

जींद | अखिलभारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति अध्यक्ष मंडल हरियाणा की बैठक जाट धर्मशाला में हुई। इसकी अध्यक्षता संयोजक भरत सिंह बेनीवाल ने की। बैठक में आगामी आंदोलन की रूपरेखा बनाई गई। जिसमें जेलों में बंद युवाओं को रिहा करने, दर्ज केस वापस लेने तथा आरक्षण सहित अन्य मांगें सरकार ने 31 दिसंबर तक पूरी नहीं की तो तीन जनवरी से समझौते में शामिल मंत्रियों के आवास का घेराव किया जाएगा। इसके तहत केंद्रीय मंत्री चौ. बीरेंद्र सिंह के आवास का घेराव कर मांगपत्र दिया जाएगा। यदि वे आवास पर हाजिर नहीं मिलेे तो उनका पुतला दहन किया जाएगा। छह जनवरी को मतलौडा में मंत्री कृष्ण लाल पंवार का घेराव होगा और 12 जनवरी को मुख्यमंत्री के आवास करनाल में घेराव किया जाएगा। यदि फिर भी सरकार ने मांगों को नहीं माना तो 21 फरवरी को जींद और रोहतक में बलिदान रैली निकाली जाएगी। उस रैली में आर-पार के संघर्ष की घोषणा की जाएगी। इस मौके पर कृष्ण किरमारा, ईश्वर कंडेला, महासिंह देशवाल, वेद सिंह धनाना, जगदीश सिंह गुलिया, हवासिंह दलाल, प्यारे लाल देशवाल, कर्मवीर सिंह मलिक, जयनारायण जिलेदार, होशियार सिंह गिल मौजूद रहे। 

सतबीरबने वित्त सचिव, होशियार सिंह ऑडिटर बैठकमें अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति अध्यक्ष मंडल हरियाणा के पत्राचार का पद भरत सिंह बेनीवाल को, प्रेस प्रवक्ता महेंद्र सिंह जागलान, किताब सिंह भनवाला को बनाया गया। वित्त सचिव सतबीर सिंह पुनिया, ऑडिटर होशियार सिंह गिल हवा सिंह दलाल, संयुक्त सचिव महासिंह देशवाल और संगठन सचिव कृष्ण करमारा को बनाया गया।