# पाक PM के आरोप पर भारत का पलटवार-टेररिस्तान है पाकिस्तान         # मोदी का वाराणसी दौरा आज, 305 करोड़ से बने ट्रेड सेंटर का करेंगे इनॉगरेशन         # समुद्र में बढ़ेगा भारत का दबदबा, पहली स्कॉर्पिन पनडुब्बी तैयार         # रोहिंग्या विवाद के बीच म्यांमार को सैन्य साजो-सामान दे सकता है भारत         # चीन में सोशल मीडिया पर इस्लाम विरोधी शब्दों के प्रयोग पर लगी रोक         # परवेज मुशर्रफ का दावा-बेनजीर की हत्या के लिए उनके पति जरदारी जिम्मेदार          # भारत ने अफगानिस्तान में 116 सामुदायिक विकास परियोजनाओं की ली जिम्मेदारी         # जम्मू-कश्मीर में दो आतंकी गिरफ्तार, सशस्त्र सीमाबल पर किया था हमला        
News Description
प्लाट की रजिस्ट्री के नाम पर 5 हजार रिश्वत लेता नायब तहसीलदार पकड़ा

प्लॉट की रजिस्ट्री पर हस्ताक्षर करने की एवज में पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते उचाना के नायब तहसीलदार होशियार को विजिलेंस टीम ने पकड़ा है। आरोपी के खिलाफ विजिलेंस ने भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।उचाना.प्लॉट की रजिस्ट्री पर हस्ताक्षर करने की एवज में पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते उचाना के नायब तहसीलदार होशियार को विजिलेंस टीम ने पकड़ा है। आरोपी के खिलाफ विजिलेंस ने भ्रष्टाचार अधिनियम के तहत केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। अलीपुरा गांव निवासी दलबीर गिल ने विजिलेंस कार्यालय में शिकायत दी थी कि उचाना तहसील का नायब तहसीलदार होशियार सिंह प्लॉट की रजिस्ट्री करने की एवज में पांच हजार रुपए मांग रहा है।


दलबीर ने बताया कि उसकी चाची कृष्णा ने गांव के ही विरेंद्र सिंह से 300 गज का प्लॉट 2000 हजार रुपए प्रति वर्गगज के हिसाब से लिया था। उस प्लॉट की रजिस्ट्री करने के लिए जब वे तहसील कार्यालय में पहुंचे तो नायब तहसीलदार ने दस हजार रुपए की रिश्वत मांगी। लेकिन बाद में उनका सौदा पांच हजार रुपए में तय हो गया।
 
गुरुवार को रजिस्ट्री के लिए फोटो आदि लिए गए, लेकिन नायब तहसीलदार ने उस पर हस्ताक्षर नहीं किए। बोले वे शुक्रवार सुबह पांच हजार रुपए देकर रजिस्ट्री ले जाना। विजिलेंस इंस्पेक्टर भूपेंद्र शर्मा ने दलबीर को रिश्वत की राशि के नोट हस्ताक्षर व पाउडर लगाकर दे दिए। शुक्रवार सुबह विजिलेंस इंस्पेक्टर के नेतृत्व में टीम उचाना उपमंडल परिसर में पहुंची। जैसे ही दलबीर ने अपने कार्यालय में मौजूद नायब तहसीलदार होशियार सिंह को रिश्वत की राशि दी तो टीम ने उसे दबोच लिया।