# बयान से पलटे करणी सेना प्रमुख ,पद्मावत देखने से इंकार         # अमेरिका में शटडाउन खत्म, राष्ट्रपति ट्रंप ने साइन किए बिल         # दिल्ली: राजपथ पर फुल ड्रेस रिहर्सल आज, कई जगह मिल सकता है जाम         # सेंसेक्स की डबल सेंचुरी, पहली बार 36000 के पार, निफ्टी ने भी रचा इतिहास         # सीलिंग के विरोध में दिल्ली के सभी बाजार आज रहेंगे बंद         # भारत-पाक बॉर्डर पर तनाव के बीच जम्मू कश्मीर में LOC के आर - पार बस सेवा फिर शुरू         # मिजोरम में शरण लिए म्यांमार के 1400 लोगों का देश लौटने से इनकार         # हरियाणा में सरकारी कर्मचारियों को देना होगा दहेज नहीं लेने का शपथ पत्र         # हरियाणा के कांग्रेस विधायकों को पार्टी फंड के लिए नोटिस         # दिल्ली एनसीआर में मौसम ने ली करवट, हल्की बारिश से ठंड की वापसी        
News Description
बिल्डर ने रोकी पानी की सप्लाई पुलिस ने कराई बहाल

धारूहेड़ा: दिल्ली-जयपुर राजमार्ग स्थित गोल्डन विला के बिल्डर एवं रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन के मेंटीनेंस राशि सहित अन्य राशि को लेकर चल रहे विवाद के बीच मंगलवार रात को बिल्डर की तरफ से पेयजल सप्लाई रोके जाने पर विवाद फिर गहरा गया है। रेजिडेंट वेलफेयर एसोसिएशन ने बिल्डर पर पेयजल सप्लाई रोके जाने का आरोप लगाते हुए रात को ही विरोध प्रदर्शन किया तथा धारूहेड़ा थाना में शिकायत दी। हालांकि पुलिस हस्तक्षेप के बाद पेयजल सप्लाई बहाल कर दी गई है।

गोल्डन विला सोसायटी प्रबंधन तथा नागरिकों के लिए बीच पिछले तीन माह से विवाद चला आ रहा है। प्रबंधन पर आरोप है कि उसने सुविधाएं उपलब्ध कराने का जिम्मा दूसरी कंपनी को दे दिया है तथा जिन सुविधाओं का एकमुश्त चार्ज लिया जा चुका है उनकी दोबारा से वसूली की जा रही है। इसको लेकर प्रबंधन एवं नागरिकों के आरोपों पर एसडीएम कुशल कटारिया द्वारा जांच की जा रही है। बिल्डर की तरफ से इससे पहले भी बिजली-पानी की सप्लाई बंद कर दी गई थी जिसके बाद नागरिकों ने धारूहेड़ा थाना में पहुंचकर हंगामा किया था जिसके बाद पुलिस ने मामले को उच्चाधिकारियों के संज्ञान में लाकर मामले का निपटारा कराया था।

इसके बाद रेजिडेंट वेलफेयर सोसायटी की शिकायत पर जांच चल रही है। रेजिडेंट एसोसिएशन के प्रधान आरसी जेठवानी व अनुकूल शर्मा ने बताया कि मंगलवार शाम को बिल्डर की तरफ से बगैर किसी पूर्व सूचना के फिर पानी बंद कर दिया गया। इसके बाद उन्होंने रात को ही उपायुक्त पंकज से मुलाकात करने के साथ धारूहेड़ा थाना को मामले की शिकायत दी। शिकायत के बाद हरकत में आई पुलिस ने पेयजल सप्लाई चालू कराई।