News Description
कौशल विवि में छात्रों को मिलेगा विश्वस्तरीय प्रशिक्षण

पलवल : दूधौला स्थित हरियाणा विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय ने कौशल प्रशिक्षण के क्षेत्र में वैश्विक मानकों को प्राप्त करने तथा संपूर्ण कौशल तंत्र की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया। यह समझौता दिल्ली के इंडिया हेवीवेट सेंटर में ब्रिटेन के नेशनल ओपन कालेज नेटवर्क यानी एनओसीएन संगठन से किया गया। यह संगठन कौशल आंकलन के मापदंड प्रदान करता है।

एनओसीएन ने यूके सरकार के कौशल सुधार के नए कार्यक्रम ट्रेलब्लाजर अपरेंटिसशिप के तहत अपरेंटिस मूल्यांकन में प्रमुख योगदान दिया है। कौशल सहयोग की लंबी यात्रा की दिशा में कदम उठाते हुए दोनों संस्थाएं पारस्परिक हित के क्षेत्रों में काम करेंगी। जिसका उद्देश्य उद्योग और शिक्षा क्षेत्र की भविष्य कौशल प्रशिक्षण आवश्यकताओं को पूरा करना है। समझौते पर हस्ताक्षर कौशल विश्वविद्यालय के उपकुलपति राज नेहरू और एनओसीएन इंडिया स्किल्स के प्रबंध निदेशक ग्राहम है¨स्टग-इवांस ने किए।

समझौता के बाद विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के छात्र अपने द्वारा किए जा रहे पाठयक्रम में बिना किसी शुल्क के अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार शिक्षा प्राप्त कर सकेंगे। जब वे उच्च शिक्षा कि लिए विदेश जाना चाहेंगे तो उन्हें कोई अतिरिक्त कोर्स नहीं करना पड़ेगा